1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

बाफ्टा पुरस्कारों की दौड़ में ए आर रहमान

गोल्डन ग्लोब की दौड़ में पिछड़ने के एक ही दिन बाद ए आर रहमान बाफ्टा पुरस्कारों की दौड़ में दूसरी बार शामिल हुए हैं. डैनी बॉयल की फिल्म 127 आवर्स के लिए बेस्ट ओरिजनल म्यूजिक श्रेणी में उनका नाम पुरस्कारों की दौड़ में है.

default

पहली बार रहमान ने ब्रिटिश एकेडमी ऑफ फिल्म एंड टेलिविजन यानी बाफ्टा अवॉर्ड डैनी बॉयल की फिल्म स्लमडॉग मिलयनेयर के लिए जीता था. इस बार रहमान का मुकाबला डैनी एल्फमैन, जॉन पॉवेल, हांस जिमर और अलेक्सांद्रे डेस्प्लाट से है. डैनी एल्फमैन ने एलिस इन वंडरलैंड, जॉन पॉवेल ने हाउ टू ट्रेन योर ड्रैगन, हैंस जिमर ने इन्सेप्शन और एलेक्सांद्रे डेस्प्लाट ने द किंग्स स्पीच में संगीत दिया है.

A R Rahman Indien Musiker

दो ऑस्कर जीतने वाले इकलौते भारतीय ए आर रहमान इस बार भी ऑस्कर पुरस्कारों की दौड़ में हैं. ब्रिटिश गायक डीडो के साथ मिल कर बनाया उनका गीत इफ आई राइज को बेहतरीन गीत की श्रेणी में रखा गया है.

127 आवर्स में जेम्स फ्रैंको ने एक पर्वतारोही का किरदार निभाया है जो एक पत्थर के नीचे दब कर अपना एक हाथ गंवा बैठता है. किसी तरह हाथ खोकर वो वहां से तो बच निकलता है लेकिन अगले पांच दिन तक वहीं फंसा रहता है. इसमें रहमान के संगीत का तारीफ हो रही है. गीत यादों में बस जाने वाले हैं और सुरों की उंचाई शानदार है.

Indien Musik Komponist A R Rahman

मोजार्ट ऑफ मद्रास के नाम से विख्यात रहमान ने 2009 में स्लमडॉग मिलियनेयर के लिए गोल्डन ग्लोब और दो ग्रैमी अवॉर्ड भी हासिल किया था. हॉलीवुड में उनकी पहली फिल्म कपल्स रिट्रीट का गाना ना ना 2010 में ऑस्कर पुरस्कारों के लिए लबे समय तक दौड़ में रहा लेकिन बाद में उसे नॉमिनेशन भी नहीं मिल सका.

इस बार के बाफ्टा अवॉर्ड में द किंग्स स्पीच का जलवा है जिसे 14 श्रेणियों में नामांकित किया गया है इनमें बेस्ट फिल्म और बेस्ट डायरेक्टर का अवॉर्ड भी शामिल है. इसके अलावा ब्लैक स्वान 12 श्रेणियों में पुरस्कारों की दौड़ में है. ब्लैक स्वान के लिए नताली पोर्टमैन बेहतरीन अभिनेत्री की दावेदार हैं.

फिल्म, टीवी, इंटरनेट और मल्टीमीडिया तकनीक के क्षेत्र में बेहतरीन काम के लिए बाफ्टा पुरस्कार इस साल 13 फरवरी को दिए जाएंगे.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः उज्ज्वल भट्टाचार्य

DW.COM

WWW-Links