1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

'बाथरूम में की प्रेमिका की हत्या'

दक्षिण अफ्रीका के विकलांग धावक ऑस्कर पिस्टोरियस ने सोच समझकर अपनी प्रेमिका की हत्या की. अभियोजन पक्ष के मुताबिक पिस्टोरियस ने बाथरूम के दरवाजे से चार बार गोली चलाई. प्रेमिका की मौत के बाद वह शव को घसीटते हुए बाहर लाए.

प्रिटोरिया की अदालत से अभियोजन पक्ष के वकील गैरी नेल ने कहा कि पिस्टोरियस ने जानबूझकर अपनी प्रेमिका रीवा स्टीनकैंप की हत्या की. दलील रखते हुए अभियोजन पक्ष ने कहा कि वारदात के वक्त रीवा स्टीनकैंप घर के बाथरूम में थीं. 26 साल के पिस्टोरियस बिस्तर से उठे. उन्होंने कुछ कपड़े पहने, बंदूक ली और फिर गोलियां चलाने के लिए सात मीटर चले.

अभियोजन पक्ष के मुताबिक बाथरूम का दरवाजा बंद होने के बावजूद 26 साल के पिस्टोरियस ने बाहर से ही फायरिंग शुरू कर दी. चार फायर किए गए. तीन गोलियां रीवा को लगीं. इसके बाद पिस्टोरियस ने बाथरूम का दरवाजा तोड़ा. बाथरूम इतना छोटा था कि रीवा कहीं जा भी नहीं सकती थीं. सरकारी वकीलों ने अदालत से कहा कि फायरिंग करने के क्या नतीजे होंगे, ये आरोपी को पता थे. पुलिस को पिस्टोरियस के घर पर खून से सना एक क्रिकेट बैट भी मिला है.

सुनवाई के दौरान अदालत में ब्लेड रनर पिस्टोरियस, उनके पिता और उनकी बहन भी मौजूद थे. अभियोजन पक्ष की दलीलें सुनकर पिस्टोरियस रो पड़े. मंगलवार को ही पोर्ट एलिजाबेथ में रीवा स्टीनकैंप का अंतिम संस्कार हुआ.

बचाव पक्ष का कहना है कि रीवा की मौत गलती से गोलियां चलाने के कारण हुई, इसे हत्या नहीं कहा जाना चाहिए. बचाव पक्ष ने कहा, पिस्टोरियस ने गलती से फायरिंग की और जब उन्हें गलती का अहसास हुआ तो उन्होंने बाथरूम का दरवाजा तोड़ा.

बचाव पक्ष की एक दलील यह भी है कि पिस्टोरियस को लगा कि घर में कोई घुसपैठिया घुसा है. इस दलील के खिलाफ गैरी नेल ने कहा, "यह सब पहले से बनाई योजना का हिस्सा है. एक चोर खुद को बाथरूम के अंदर क्यों बंद करेगा."

29 साल की रीवा की मौत वेलेन्टाइंस डे की सुबह हुई.  अब रीवा और पिस्टोरियस के निजी संबंध भी चर्चा में हैं. कहा जा रहा है कि टॉप मॉडलों और दुनिया की सबसे आकर्षक 100 महिलाओं में शुमार हो चुकीं रीवा पिस्टोरियस से अलग होना चाह रही थीं. बचाव पक्ष को लग रहा है कि अभियोजन पक्ष सुनवाई के दौरान इस मुद्दे को लाएगा.

सुनवाई बुधवार को भी जारी रहेगी. दो दिन की सुनवाई के बाद अदालत तय करेगी कि पिस्टोरियस को जमानत दी जाए या नहीं. जमानत नहीं मिली तो यह साफ हो जाएगा कि पिस्टोरियस बुरी तरह फंसने वाले हैं. अगर वह दोषी साबित हुए तो आजीवन कारावास की सजा हो सकती है.

दोनों पैर कटे होने के बावजूद घुटने के नीचे कार्बन फाइबर की पत्तियां लगाकर फर्राटा भरने वाले पिस्टोरियस बीते साल लंदन ओलंपिक के दौरान फिर सुर्खियों में आए. लंदन में वह ओलंपिक खेलों में हिस्सा लेने वाले पहले विकलांग खिलाड़ी बने. वह दुनिया भर के विकलांगों के लिए प्रेरणास्रोत बन गए. इस दौरान कई बातें परदे के पीछे चली गई. रीवा की मौत के बाद अब पिस्टोरियस की ऐसी आदतें सामने आ रही हैं जो सुर्खियों की वजह से ढंकी रहीं. गुस्से में झगड़ पड़ने, शराब के नशे में हंगामा करने और लड़ जाने के पुराने मामले भी अब पिस्टोरियस की एक अलग तस्वीर बना रहे हैं.

ओएसजे/ एमजी (एपी)

DW.COM