1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

बांग्लादेश ने चैंपियन इंग्लैंड को हराया

टी-20 की वर्ल्ड चैंपियन और फिर हाल ही में ऑस्ट्रेलिया को बुरी तरह हराने वाली इंग्लैंड की टीम को बांग्लादेश ने हराया. मेजबान इंग्लैंड की टीम पूरे 50 ओवर भी नहीं खेल सकी. पहली बार इंग्लैंड से जीता बांग्लादेश.

default

अपने प्रदर्शन से कई बार भारत और पाकिस्तान जैसी टीमों को हैरान कर देने वाले बांग्लादेश ने इस बार इंग्लैंड की आंखें लाल कर दी. ब्रिस्टन में खेले गए नेटवेस्ट सीरीज के मैच में बांग्लादेश ने इंग्लैंड को 231 पर ऑल आउट कर दिया और पांच रन से इंग्लैंड के खिलाफ ऐतिहासिक जीत दर्ज की.

इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया. कप्तान एंड्र्यू स्ट्रॉस की टीम को लगा कि उसने जिस तरह लक्ष्य का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलिया को हराया, वही कहानी जारी रहेगी. इंग्लैंड की गेंदबाजी से ऐसा लगा भी. बांग्लादेश 50 ओवर में सात विकेट खोकर 236 रन ही बना सका. सलामी बल्लेबाज इमारूल कयाज ने सबसे ज्यादा 76 रन बनाए. इंग्लैंड के एशियाई मूल के तेज गेंदबाज अजमल शहजाद ने तीन विकेट झटके. 24 साल के शहजाद का यह पहला अंतरराष्ट्रीय वनडे रहा.

Cricket England Australien

बहरहाल 237 रन की आसान मानी जाने वाली चुनौती का जबाव देने उतरी मेजबान टीम की पूरी बल्लेबाजी चरमरा गई. दसवें ओवर तक दोनों सलामी बल्लेबाज पैवेलियन लौट गए. ऐसे में क्रीज का एक छोर थामा, जोनाथन ट्रॉट ने. उन्होंने 94 रन की शानदार पारी खेली, लेकिन दूसरे छोर पर कोई बल्लेबाज उनका साथ न दे सका. विकेट गिरते चले गए.

26वें ओवर तक आधी टीम पैवेलियन लौट चुकी थी. विकेट गिरने का यह सिलसिला आगे भी जारी रहा. आखिरी ओवर में इंग्लैंड को जीत के लिए 10 रन चाहिए थे. लंबी पारी खेल रहे ट्रॉट ने दूसरी गेंद पर दो रन लेकर उम्मीदें जिंदा रखी लेकिन तीसरी गेंद पर विकेटकीपर ने उनकी गिल्लियां उड़ा दी.

आखिरी विकेट गिरते ही बांग्लादेश के खिलाड़ी विकेटों को उखाड़ने के लिए दौड़ पड़े. सभी खिलाड़ी खुशी में एक दूसरे के ऊपर चढ़ने लगे. हार से इंग्लैंड की खासी किरकिरी हुई है. ब्रिटिश मीडिया ने टीम पर निशाना साधते हुए कहा है, ''खुद को स्टार समझने वालों को बांग्लादेश जैसी टीम जमीन पर ले आई.''

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: एस गौड़

संबंधित सामग्री