1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

बर्फ में फिसला अमेरिकन एयरलाइंस का विमान

भारी बर्फबारी के चलते अमेरिका में हवाई सफर खतरनाक साबित हो रहा है. बुधवार को व्योमिंग एयरपोर्ट पर अमेरिकन एयरलाइंस का एक बड़ा विमान फिसल गया. लैंडिंग के दौरान विमान रुक ही न पाया और बर्फ में फिसलता चला गया.

default

175 यात्रियों और चालक दल के छह सदस्यों की जान बाल बाल बची. एयरपोर्ट अधिकारियों के मुताबिक शिकागो से आ रही अमेरिकन एयरलाइंस की फ्लाइट के लैंड होने से पहले भारी बर्फबारी हो गई. इस वजह से पायलटों से कहा गया कि वह विमान को उतारने के बजाए हवा में घुमाते रहे. इस दौरान रनवे से बर्फ हटाई जा रही थी. रनवे के 300 फुट लंबे हिस्से से बर्फ हटाने के बाद अचानक पायलटों ने कहा कि उनका तेल खत्म हो रहा है उन्हें हर हाल में नीचे उतरना है.

इसके बाद बोइंग 757 जैसे बड़े विमान को लैंड कराने का अनुमति देनी पड़ी. रनवे इतना फिसलन भरा था कि पायलटों ने विमान के ब्रेक नहीं लगाए. उन्होंने हवा, पंखों और इंजन को उल्टी दिशा में चलाकर विमान को रोकने की कोशिश की. लेकिन इतना सब करने के बावजूद जहाज फिसलता हुआ रनवे की आखिरी छोर पर पहुंच गया. शुक्र रहा कि जहाज मिट्टी पर ही रुका और आस पास घास या झाड़ियां नहीं थीं.

अब मामले की जांच की जा रही है. एयरपोर्ट अधिकारी और चालक दल के सदस्य एक दूसरे के ऊपर आरोप लगा रहे हैं. एयरपोर्ट डायरेक्टर का कहना है कि रनवे पर ब्रेक लगाया जा सकता था, वहां पर्याप्त घर्षण मौजूद था. पायलटों का कहना है कि ब्रेक लगाना मौत को दावत देने जैसा था. एयरलाइन अधिकारियों के मुताबिक एयरपोर्ट अधिकारियों ने उन्हें इस बात की जानकारी नहीं दी कि, ''बर्फ ज्यादा है और इसे हटाने में काफी वक्त लगेगा.'' एयरलाइन के मुताबिक अधिकारी पायलटों से कहते रहे कि बस हवा में इंतजार करो, कुछ ही देर में 6,400 फुट लंबा रनवे खुल जाएगा.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: एन रंजन

DW.COM

WWW-Links