1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

बर्फ में दबा तीन मंजिला होटल

इटली में भूकंप के बाद हुए हिमस्खलन ने एक तीन मंजिला होटल को ढंक दिया. होटल के भीतर कई लोग फंसे हैं. बर्फबारी के चलते एंबुलेंस 9 किलोमीटर दूर खड़ी हैं.

इटली के राहत और बचाव अधिकारियों को आशंका है कि हिमस्खलन ने कई लोगों की जान ली है. मध्य इटली के पहाड़ी इलाके में बुधवार के भूकंप के बाद बर्फ का सैलाब आया. फारिनडोला कस्बे का स्की होटल रिजोपियानो भी इसकी चपेट में आ गया. पहाड़ों से खिसकी बर्फ ने तीन मंजिला होटल को पूरी तरह ढंक दिया.

इटली की सिविल प्रोटेक्शन एजेंसी के प्रमुख फाब्रिजियो कुर्सियो ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए कहा, "करीब 30 लोग लापता है, इनमें फारिनडोला के होटल रिजोपियानो के मेहमान भी हैं और कर्मचारी भी." घटनास्थल के मंजर को उन्होंने सर्वनाश करार दिया.

होटल के भीतर फंसे एक व्यक्ति से किसी तरह इमरजेंसी सेवाओं के संपर्क किया. उसका आखिरी संदेश था, "मदद करो. हम ठंड से मर रहे हैं." इस संदेश के बाद होटल में फंसे लोगों से कोई संपर्क नहीं हो सका.

स्थानीय पुलिस ने एक वीडियो भी ट्वीट किया है. हेलिकॉप्टर से लिये गए इस वीडियो में होटल का नामो निशान तक नहीं दिख रहा है.


हिमस्खलन से पहले इसी इलाके में खूब बर्फ भी गिरी थी. अधिकारियों के मुताबिक बर्फ के चलते कई सड़कें बंद हैं. कई गांवों तक अब भी राहत और बचाव की टीमें नहीं पहुंच सकी हैं. कुर्सियो ने कहा, "भारी हिमपात के दौरान हमने लोगों से कहा कि वे घर पर रहें. लेकिन अगर इलाके में भूकंप आए तो लोग घर छोड़ देते हैं. ये दोनों चीजें अगर एक साथ हों तो बहुत ही मुश्किल होती है."

नेशनल फायर रेक्स्यू डिपार्टमेंट के प्रवक्ता के मुताबिक अब तक सिर्फ एक व्यक्ति को जिंदा निकाला जा सका है, "कई अन्य अंदर ही फंसे हुए हैं. हमें नहीं पता कि कितने लोग जिंदा है या दम तोड़ चुके हैं. बर्फवारी के बावजूद हम राहत और बचाव के काम में जुटे हैं."

बर्फबारी के चलते एंबुलेंस घटनास्थल से नौ किलोमीटर दूर खड़ी हैं. स्थानीय मीडिया के मुताबिक राहत और बचाव दल बर्फ में 10 किलोमीटर पैदल चलकर गुरुवार सुबह साढ़े चार बजे मौके पर पहुंचा.

ओएसजे/एमजे (एपी, एएफपी, रॉयटर्स)

DW.COM