1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

बड़े बदलाव लाएगा घोड़े का साल

चीन कैलंडर के हिसाब से नया साल शुरू हो गया है. यह साल घोड़े का है, यानी बहादुरी, वफादारी और बड़े बदलावों का साल.

चीन में नया साल सबसे अहम दिन होता है. देश के अलग अलग शहरों से 24 करोड़ लोग ट्रेनों, बसों और हवाई जहाजों में भर भर के अपने गांवों और प्रांत पहुंचे. यातायात प्राधिकरणों के मुताबिक इस साल 3.6 अरब यात्राओं की बुकिंग हुई. दुनिया भर में यह अकेला मौका है जब इतने सारे लोग साथ सफर करते हैं. कई चीनी नागरिकों को केवल नववर्ष पर छुट्टी मिलती है.

एशिया के अलग अलग देशों में भी चीनी मूल के लोगों ने साथ आकर नए साल का स्वागत किया. चीन के राष्ट्रपति ली जिनपिंग ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि वह सबके लिए स्वास्थ्य और खुशी की दुआ करते हैं. चीन के प्रधानमंत्री ली केचियांग ने भी इस तेजी का स्वागत करते हुए कहा है कि उनकी कम्युनिस्ट पार्टी स्वास्थ्य सेवाओं, सामाजिक सुरक्षा, खाद्य सुरक्षा और प्रदूषण कम करने की ओर काम करेगी. हालांकि इस साल राजधानी बीजिंग में ज्यादा पटाखे नहीं फोड़े गए क्योंकि वायु प्रदूषण एक बड़ी समस्या हो गई है.

China Reiseverkehr zum Neujahrsfest

हर तरफ दिखेगा घोड़ा ही घोड़ा

चीनी कैलेंडर चांद की परिक्रमा पर आधारित है और चीनी मिथक के मुताबिक हर साल एक जानवर का होता है. इसमें कुल 12 जानवर होते हैं. घोड़ा सातवें स्थान पर होता है और घोड़े के साल को तेजी, बहादुरी और वफादारी के साथ साथ जिद से भी जोड़ा जाता है. चीनी ज्योतिष मानते हैं कि इस साल कई बदलाव आएंगे क्योंकि यह साल लकड़ी के घोड़े का है, जिसके साथ आग को भी जोड़ा जाता है.

ड्रैगन के बाद घोड़ा चीन नक्षत्रों में सबसे ज्यादा लोकप्रिय है. चीनी भाषा में अगर कोई "तुरंत" कहना चाहता है तो इसके लिए शब्दों का मतलब है, "घोड़े पर सवार होना." नए साल के लिए बने ग्रीटिंग कार्ड में घोड़े की पीठ पर घर, पैसा और यहां तक गाड़ियों की तस्वीरें हैं. वहीं चीनी वास्तु शास्त्र फेंग शुई के मुताबिक इस साल बहुत संघर्ष होंगे, गर्मी बहुत ज्यादा होगी, एशिया की अर्थव्यवस्था की हालत खराब होगी और यहां तक कि पॉपस्टार जस्टिन बीबर की किस्मत भी इस साल खास नहीं चमकेगी.

एमजी/एजेए (एएफपी, डीपीए)

DW.COM

संबंधित सामग्री