1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

बट पर लग सकता है लंबा प्रतिबंध और तगड़ा जुर्माना

आईसीसी स्पॉट फिक्सिंग के आरोपी पाकिस्तानी क्रिकेटर सलमान बट पर कड़ी कार्रवाई करेगा. बट पर सात साल का प्रतिबंध लगाया जा सकता है. मोहम्मद आमेर और मोहम्मद आसिफ पर भी दो-दो साल का प्रतिबंध लग सकता है.

default

सलमान बट

स्पॉट फिक्सिंग के आरोपी इन खिलाड़ियों को आईसीसी के भ्रष्टाचार निरोधी ट्राइब्यूनल के सामने अगले महीने पेश होना है. सुनवाई छह जनवरी से कतर की राजधानी दोहा में शुरू होगी. आईसीसी के सूत्रों का कहना है कि निलंबन झेल रहे पाकिस्तान के टेस्ट कप्तान सलमान बट पर प्रतिबंध लगाया जाना तय है. बट पर भारी जुर्माना ठोंके जाने के भी संकेत मिल रहे हैं.

सूत्र ने समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा, ''आईसीसी के भ्रष्टाचार निरोधी शाखा ने उनके खिलाफ सबूतों की लिस्ट तैयार कर रखी है. वह कप्तान थे और टीम के फैसलों के लिए जिम्मेदार थे.'' माना जा रहा है कि बट का बचना नामुमकिन सा है. सूत्र के मुबातिक बट ने बार बार वकील बदले और आईसीसी को भी तेवर दिखाए. इसके चलते उन्हें रियायत देने की गुंजाइश खत्म हो चुकी है.

वहीं युवा गेंदबाज मोहम्मद आमेर और पहले से विवादों में रहने वाले मोहम्मद आसिफ पर दो-दो साल का प्रतिबंध लगाए जाने पर बहस होगी.

यह तीनों खिलाड़ी पाकिस्तान के इंग्लैंड के दौरे में स्पॉट फिक्सिंग के मामले में फंसे. ब्रिटेन के एक अखबार ने स्टिंग ऑपरेशन में दिखाया कि एक सट्टेबाज ने मैच के दौरान नो बॉल फेंकने तक की सेंटिंग की थी. मजहर मजीद नाम के इस सट्टेबाज ने मैच से पहले ही बात दिया था कि इस ओवर की यह वाली गेंद नो बॉल होगी. मोहम्मद आमेर और आसिफ ने ठीक तभी नो बॉलें फेंकी. सट्टेबाज ने दावा किया कि उसने कप्तान सलमान बट के साथ मिलकर स्पॉट फिक्सिंग की. वीडियो फुटेज में सलमान बट भी दिखाई पड़ रहे हैं.

रिपोर्ट: पीटीआई/ओ सिंह

संपादन: ए कुमार

DW.COM

WWW-Links