1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

बट ने माफी मांगी, मैच फिक्सिंग के आरोप वापस लिए

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन एजाज बट ने इंग्लैंड के क्रिकेटरों पर लगाया मैच फिक्सिंग का आरोप वापस ले लिया है. इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने बट के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की धमकी दी जिसके बाद उन्होंने आरोप वापस लिया.

default

एजाज बट की माफी

एजाज बट ने कहा है कि वह अपनी ओर से और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की ओर से इन आरोपों को वापस लेते हैं. "यह खेदजनक है कि मेरे बयानों से गलतफहमी पैदा हो गई. मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि अपनी टिप्पणी से मैंने कभी भी इंग्लैंड के क्रिकेटरों के आचरण या सम्मान पर अंगुली नहीं उठाई. मैंने कभी यह नहीं कहना चाहा कि कोई खिलाड़ी भ्रष्ट आचरण या फिर पाकिस्तान क्रिकेट के खिलाफ साजिश में शामिल है." इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड और टीम ने एजाज बट की माफी का स्वागत किया है और कहा है कि वे अब इस मसले को भूलना चाहते हैं.

Pakistan Cricket Manipulation

फिक्सिंग में फंसे तीन खिलाड़ी

एजाज बट ने यह आरोप इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच 17 सितम्बर को खेले गए ओवल वनडे मैच के बाद दिया जिसमें पाकिस्तान ने जीत हासिल की. एजाज बट ने एक टीवी चैनल के साथ बातचीत में कहा था कि बुकीज में यह चर्चा है कि इंग्लैंड के क्रिकेटरों ने मैच हारने के लिए भारी भरकम रकम ली. उनके इस बयान के बाद से इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड की भौंहें तनी हुई थीं और वह लगातार बट से बिना शर्त माफी की मांग कर रहा था.

एजाज बट ने अपने बचाव में बीबीसी को बताया कि वह बुकमेकर से मिली जानकारी को ही बता रहे थे लेकिन इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड और कप्तान एंड्रयू स्ट्रॉस ने उनके इस बयान को अपमानजनक बताया. स्ट्रॉस ने तो यहां तक कह दिया कि उन्होंने लॉर्ड्स मैच से हटने के विकल्प पर भी विचार किया. पिछले गुरुवार को इंग्लैंड ने पांच वनडे मैचों की सीरीज 3-2 से जीत ली.

इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच वनडे सीरीज के तीसरे वनडे मैच में पाकिस्तान ने इंग्लैंड को हराया लेकिन उसके भी फिक्स होने के आरोप के बाद आईसीसी ने मैच की जांच शुरू कर दी. ब्रिटेन के एक अखबार ने आरोप लगाया था कि पाकिस्तानी बल्लेबाजों के स्कोर में एक खास पैटर्न देखने को मिला. बट कह चुके हैं कि ऐसा कम ही होता है कि किसी टीम के मैच जीतने पर भी उसके खिलाफ जांच बैठाई जाती है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: ए जमाल

DW.COM

WWW-Links