1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

बच्चे अब अर्जुन से नहीं डरते

बॉलीवुड के नवोदित अभिनेता और फिल्मकार बोनी कपूर के बेटे अर्जुन कपूर का कहना है कि उनकी हाल ही में प्रदर्शित फिल्म 2 स्टेट्स के बाद बच्चे अब उनसे नहीं डरते हैं.

यश चोपड़ा की 2012 में प्रदर्शित फिल्म इशकजादे से अपने करियर की शुरूआत करने वाले अर्जन कपूर की छवि फिल्मों में रफटफ हीरो की रही है. इशकजादे, औरंगजेब और हाल ही में रिलीज हुई फिल्म गुंडे में अर्जुन कपूर ने रफटफ हीरो की भूमिका निभाई है. लेकिन इस बार उन्होंने अपनी नई फिल्म 2 स्टेट्स में एक प्रेमी का किरदार निभाया है.

अर्जुन कपूर ने कहा, "इस फिल्म के बाद सबसे अच्छी बात यह हुई है कि अब बच्चे मुझसे नहीं डरते. मेरी पहली दो फिल्मों के बाद बच्चों ने मुझसे डरना शुरू कर दिया था. एक बार मुझे एक बच्चे ने देखा और बाला-बाला कहना शुरू कर दिया और फिर रोने लगा. अब कोई बच्चा नहीं रो रहा और वे मेरे साथ फोटो खिंचवाने को तैयार हैं." गुंडे में अर्जुन कपूर ने बाला नाम के युवक का किरदार निभाया था.

चेतन भगत के मशहूर उपन्यास पर बनी 2 स्टेट्स ऐसे दो लोगों की कहानी है जो अलग अलग राज्यों में रहते है और एक दूसरे से प्यार करने लगते हैं. इस फिल्म में अर्जुन कपूर के अलावा आलिया भट्ट, अमृता सिंह और रेवती की भी मुख्य भूमिका है. यह फिल्म 18 अप्रैल को रिलीज हुई है. अपने पहले वीकेंड के दौरान फिल्म 38 करोड़ रूपये की कमाई कर चुकी है.

अर्जुन कपूर इन दिनों अपने मशहूर पिता के बैनर तले बन रही फिल्म तेवर में काम कर रहे है. उनको लगता है कि उनके पिता ने 1987 में फिल्म मिस्टर इंडिया बनाकर साबित कर दिया था कि वह अपने समय से बहुत आगे हैं.

अर्जुन ने कहा, "मिस्टर इंडिया स्पेशल इफेक्ट्स और भावनाओं, साइंस, फैंटसी और पारिवारिक फिल्म की एकजुटता का मिश्रण है. मुझे लगता है कि मेरे पिता ने मिस्टर इंडिया में जिस तरह के विजुअल इफेक्ट्स डाले उससे साफ है कि वे अपने समय से आगे हैं. यह काम का प्रेरणादायक नमूना है. मैं तेवर में अपने पिता के साथ काम कर बेहद खुश हूं."

एमजे/आईबी (वार्ता)

DW.COM