1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

बचपन के घर में ओबामा

मेरापी ज्वालामुखी से उठती लपटों को नजरअंदाज कर किसी बवंडर की तरह बचपन के घर इंडोनेशिया पहुंचे हैं ओबामा. यहां आकर कहा कभी नहीं सोचा था कि अमेरिका के राष्ट्रपति के रूप में इंडोनेशिया वापस लौटूंगा.

default

उंघते शहर से जगमगाते नगर में तब्दील हो गए जकार्ता को देख अचंभे में पड़े ओबामा ने माना कि देश में हर तरफ क्रांति आई है और ये तानाशाही से लोकतंत्र की तरफ तेजी से बढ़ा है और हां अमेरिकी से दोस्ती भी अब गहरी हो गई है.

पत्रकारों से ओबामा ने कहा," जिस देश में आपका बचपन बीता हो वहां अमेरिका के राष्ट्रपति के रूप में पहुंचना भ्रम में डाल देता है. पूरा शहर बदल गया है 1967 में जब मैं यहां आया था तब लोग रिक्शे में बैठ कर घूमा करते थे."

ओबामा ऐसे समय में इंडोनेशिया पहुंचे हैं जब मध्य जावा में मेरापी की ज्वालामुखी से राख के गुबार उठ रहे हैं और इसकी वजह से विमानों का आवाजाही पर बुरा असर पड़ा है. इस राख ने ही ओबामा को दो बार पहले रद्द हो चुकी अपने घर की यात्रा छोटी करने पर मजबूर कर दिया. बुधवार को तय कार्यक्रम से दो घंटे पहले ही एयरफोर्स 1 यहां से वापसी की उड़ान भरेगा. इसके बाद विमान के उड़ान भरने की गारंटी नहीं दी जा सकती.

Die Thamrin Street im Herzen von Jakarta

शहर की बदली रंगत देख हैरत में ओबामा

एशिया दौरे पर आए ओबामा के लिए इंडोनेशिया भारत के बाद दूसरा पड़ाव है. यहां से वो जी 20 सम्मेलन में शामिल होने दक्षिण कोरिया जाएंगे. दक्षिण कोरिया के बाद उनका अगला पड़ाव जापान का योकोहामा होगा जहां उन्हें एपेक सम्मेलन में हिस्सा लेना है.

जकार्ता में ओबामा ने कहा कि वो मानते हैं कि इस्लाम में एक नई शुरुआतका काम अभी अधूरा है और बहुत कुछ किया जाना बाकी है. इंडोनेशियाई राष्ट्रपति सुसिलो बाम्बांग युधयोनो के साथ संयुक्त प्रेस कांप्रेंस में ओबामा ने कहा," हम ये उम्मीद नहीं करते कि लंबे समय से जड़ा जमा चुकीं गलतफहमियां और अविश्वास एक दम खत्म हो जाएंगी लेकिन ये जरूर मानते हैं कि हम सही रास्ते पर हैं." ओबामा ने यरुशलम में 1300 नए घर बनाने के फैसला की भी आलोचना की और चेतावनी दी कि पहले से ही संकट से जूझ रही शांति प्रक्रिया इस वजह से पूरी तरह रूक सकती है. सियोल में जी20 के बैठक के मुद्दे को छूते हुए ओबामा ने कहा," अमेरिका मानता है कि आर्थिक संकट इसलिए बड़ा है क्योंकि दुनिया में कमी और अधिकता के मामले में बहुत ज्यादा बड़ा असंतुलन है." चीन की तरफ इशारा करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा,"कुछ देश जान बूझ कर अपने देश की मुद्रा की कीमत नीचे रख रहे हैं ताकि वो उससे मिलने वाले फायदे उठाते रहें." ओबामा का कहना है कि अच्छा ये होगा कि," अधिक उत्पादन करने वाले देश आंतरिक मांग को बढ़ा कर विकास करने की सोचें और मुद्रा के मामले में बाजार पर आधारित व्यवस्था लागू हो."

इस मौके पर इंडोनेशियाई राष्ट्रपति ने कहा कि उनके देश और अमेरिका ने मजबूत साझीदारी के लिए करार किया है जो आर्थिक और दूसरे क्षेत्रों में आपसी सहयोग को बढ़ावा देगा. इनमें सुरक्षा और लोकतंत्र को मजबूत करने की प्रक्रिया भी शामिल है. ओबामा ने उनकी मां स्टैनली एन डनहैम को मृत्यु के बाद इंडोनेशियाई सरकार के दिए पुरस्कार के लिए आभार जाताया. स्टैनली डनहैम ने इंडोनेशिया में अपने दिन माइक्रोफाइनेंस की पढ़ाई और महिलाओं को सशक्त बनाने के काम में गुजारा था. ओबामा ने कहा," अपनी मां की तरफ से इस पुरस्कार को लेते हुए मुझे गर्व का अनुभव हो रहा है मैं इंडोनेशियाई सरकार का आभारी हूं."

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः उज्ज्वल भट्टाचार्य

DW.COM

WWW-Links