1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

बंधकों की सुरक्षित रिहाई, बंदूकधारी की मौत

वॉशिंगटन में डिस्कवरी चैनल के मुख्यालय में कुछ लोगों को बंधक बनाने वाले बंदूकधारी को पुलिस ने गोली मार दी है. सभी बंधकों को इमारत के बाहर सुरक्षित लाया गया है. नाटकीय घटनाक्रम चार घंटे तक चला. बंदूकधारी की मौत.

default

वॉशिंगटन के बाहरी इलाके में हुई घटना

मोंटगोमरी काउंटी पुलिस के प्रमुख जे थॉमस मेंगर ने पत्रकारों को बताया, "कुछ देर पहले पुलिस अधिकारियों ने संदिग्ध बंदूकधारी को मार गिराया है. सभी बंधक सुरक्षित हैं और उन्हें इमारत से बाहर ले आया गया है." पुलिस का कहना है कि बंदूकधारी की पुलिस की गोली से मौत हो गई है. तीन बंधकों को सुरक्षित रिहा करा लिया गया.

कुछ स्थानीय मीडिया रिपोर्टों में बंदूकधारी का नाम जेम्स जे ली बताया गया है जो एक बार डिस्कवरी चैनल को अपनी मांगों की एक लिस्ट भी भिजवा चुका है. वह व्यक्ति चाहता है कि डिस्कवरी धरती को बचाने वाले कार्यक्रम प्रसारित करे और युद्ध को महिमामंडित करने वाले कार्यक्रम बंद करे.

रिपोर्टों के मुताबिक बंदूकधारी कट्टर पर्यावरणवादी था और डिस्कवरी से मांग कर रहा था कि युद्धक उपकरणों पर आधारित कार्यक्रमों पर रोक लगाई जाए और जनसंख्या नियंत्रण का संदेश दिया जाए ताकि धरती को बचाया जा सके.

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि हमलावर ने जब इमारत में प्रवेश किया तो उसने धातु से बनी पोशाक (मेटल डिवाइस) पहनी हुई थी और उसने बंदूक निकाल कर सबको हैरान कर दिया. यह घटना अमेरिका की राजधानी वॉशिंगटन के बाहरी इलाके की हैं जहां डिस्कवरी चैनल का मुख्यालय है. घटना के कुछ ही देर बाद पुलिस अधिकारी टॉम मैंगर ने रॉयटर्स न्यूज एजेंसी को बताया कि बंधकों की संख्या के बारे में सही जानकारी नहीं मिल पा रही थी.

करीब दो घंटे तक प्रशासन ने बंदूकधारी के साथ टेलीफोन पर बात की और उस दौरान पुलिस को आशंका थी कि बंदूकधारी बंधकों को निशाना बना सकता है क्योंकि वह बार बार गुस्सा हो रहा था. पुलिस के मुताबिक बंदूकधारी एशियाई मूल का है और उसने अपने पेट और कमर में विस्फोटक बांधा हुआ है.

पुलिस का कहना है कि बंदूकधारी डिस्कवरी चैनल में पहले भी झगड़ा कर चुका है और ऐसा लगता है कि दो साल पहले उसे यहां गिरफ्तार किया गया था.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: महेश झा