बंगलौर धमाके मामले में मदनी गिरफ्तार | जर्मन चुनाव 2017 | DW | 17.08.2010
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

बंगलौर धमाके मामले में मदनी गिरफ्तार

बंगलौर में 2008 में हुए बम धमाके के सिलसिले में पीडीपी के नेता अब्दुल नसीर मदनी को गिरफ्तार कर लिया गया है. मदनी को नाटकीय अंदाज में उनके कैंप से गिरफ्तार किया गया और इस तरह आठ दिन से जारी सस्पेंस खत्म हुआ.

default

मामला बंगलौर धमाके का

बंगलौर की अदालत की तरफ से दी गई समय सीमा खत्म होने से कुछ घंटे पहले ही कर्नाटक पुलिस की एक टीम ने मदनी को गिरफ्तार किया. उन्हें केरल के कोल्लम जिले में उनके अनाथ आश्रम और मदरसे के पास से गिरफ्तार किया गया. पीडीपी नेता ने कहा कि वह एक स्थानीय अदालत में आत्म समर्पण करेंगे. इसके कुछ देर बाद ही केरल पुलिस की मदद से कर्नाटक पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया.

मदनी प्रार्थनाओं के बीच एक वाहन में सवार होकर अपने कैंप से आए, जिसे केरल पुलिस ने रोक लिया ताकि कर्नाटक के अधिकारी उन्हें गिरफ्तार कर सकें. यह पूरी प्रक्रिया कानून व्यवस्था में किसी व्यवधान के बिना पूरी कर ली गई. हालांकि कुछ लोग मदनी के समर्थन नारे लगा रहे थे जबकि उनके अनाथ आश्रम में रहने वाले कुछ लोग रो रहे थे.

केरल पुलिस की टीम का नेतृत्व कर रहे कोल्लम के एसपी हर्षित अट्टालुरी ने पत्रकारों को बताया कि मदनी को कर्नाटक पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. इसके बाद उन्हें तिरुअनंतपुरम ले जाया गया. वहां से उन्हें हवाई मार्ग से बंगलौर ले जाकर उन्हें मेट्रोपेलिटन मैजिस्ट्रेट के सामने पेश किया जाएगा.
पिछले महीने लश्कर-ए-तैयबा के संदिग्ध आतंकवादी टी नजीर ने बंगलौर में हुए धमाके में मदनी को भी शामिल बताया. इसके बाद अतिरिक्त चार्जशीट में मदनी को 31वें आरोपी के तौर पर सूचीबद्ध किया. बंगलौर धमाके में एक व्यक्ति की मौत हुई जबकि 20 घायल हो गए.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः आभा एम