1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

फ्रांस: हमलावर ने किया आत्मसमर्पण

फ्रांस में एक व्यंग्य पत्रिका पर हुए हमले के मामले में तीन में से एक हमलावर ने आत्मसमर्पण कर दिया है. हमलावरों में से इस युवक की उम्र सबसे कम है.

पेरिस से 150 किलोमीटर दूर रांस शहर में बाकी दो हमलावरों के खिलाफ पुलिस का खोज अभियान जारी है. पुलिस ने इन दोनों की पहचान शरीफ और सईद कोआची के रूप में की है. पुलिस के अनुसार दोनों भाई हैं और उनकी उम्र 32 से 34 है. आत्मसमर्पण करने वाला 18 साल का हामिद मुराद है. तीनों फ्रांस के ही नागरिक हैं.

समाचार एजेंसी एएफपी के अनुसार हामिद ने सोशल मीडिया में अपना नाम उछलता देखा और घबरा कर वह रांस में पुलिस के पास पहुंच गया. पत्रकारों से बात करते हुए पुलिस ने कहा कि हमला करने के बाद युवक सड़कों पर यह कहते हुए निकले, "मीडिया को बता दो हम यमन के अल कायदा हैं." शरीफ कोआची को पहले भी आतंकवाद को बढ़ावा देने के आरोप में 18 महीने के लिए गिरफ्तार किया जा चुका है.

राजधानी पेरिस में शोक का माहौल है. रिपब्लिक स्क्वायर पर पर लोग एकजुटता दिखाने के लिए जमा हो रहे हैं. मोमबत्ती लगाने आए एक व्यक्ति ने बताया कि किसी भी संगठन ने आयोजित रूप से लोगों को नहीं बुलाया है, बल्कि नागरिक खुद ही सहानुभूति दिखाने वहां पहुंच रहे हैं. कई लोगों के हाथ में "मैं शार्ली एब्दॉ हूं" के बोर्ड भी दिखे.

पेरिस में सरकारी अधिकारियों पर हमले की एक और घटना हुई है. राजधानी के बाहरी इलाके में एक हमलावर ने ऑटोमैटिक राइफल से गोलियां चलाईं जिसमें एक महिला पुलिसकर्मी और नगर प्रसासन का एक अधिकारी गंभीर रूप से घायल हो गए. हमलावर को अभी तक पकड़ा नहीं जा सका है. इसके अलावा पूर्वी फ्रांस के वियेफ्रांस सु सोन में एत मस्जिद के निकट स्थित रेस्तरां में धमाका हुआ है. सरकारी सूत्रों के अनुसार धमाके में किसी के घायल होने की खबर नहीं है.

व्यंग पत्रिका शार्ली एब्दॉ पर हमले से इन घटनाओं का कोई संबंध है या नहीं इसके बारे में अब तक कोई जानकारी नहीं है. यह घटनाएं ऐसे दिन हुई है जब पूरा फ्रांस शार्ली एब्दॉ पर हमले में मारे गए लोगों के लिए शोक मना रहा है.

आईबी/एमजे (एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री