1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

फ्रांस के स्कूल से बंधक बच्चे रिहा

चार घंटे किंडरगार्टन में तलवार की धार पर बंधक बना कर रखे गए छह बच्चे और उनकी टीचर को सोमवार दोपहर छुड़ा लिया गया. एक 17 साल का युवक दो तलवारों के साथ किंडरगार्टन में घुस आया और बच्चों को को बंधक बना लिया.

default

फ्रांस के बेजॉंसॉं शहर में किंडरगार्टन में बच्चों को छोड़ने आए माता पिता ने सपने में भी नहीं सोचा होगा कि कुछ यहां बच्चों की जान इस तरह मुश्किल में पड़ जाएगी. 17 साल के एक युवक ने दो तलवारों की नोंक पर बच्चों को 4 घंटे बंद कर के रखा.

अधिकारियों ने कहा कि यह युवक पर्सनालिटी डिसऑर्डर से ग्रस्त है और उसे पूछताछ के लिए पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. बेजॉंसॉं के मेयर ने बताया, "किसी तरह की हिंसा नहीं हुई. सब शांति से हो गया. वह व्यक्ति बहुत खराब मानसिक स्थिति में है. मेयर ने जानकारी दी कि वह स्थानीय नागरिक है."

चार से छह साल के बच्चों को हरे कंबलों में लपेट पर उनके रिश्तेदारों को सौंपा गया जो कि किंडरगार्टन के बाहर बेसब्री से उनका इंतजार कर रहे थे. पुलिस ने अपहरण करने वाले व्यक्ति के साथ फोन पर बातचीत कर पूरा मामला सुलझाया.

Geiselnahme Frankreich Vorschule

अधिकारियों ने जानकारी दी कि स्थानीय समय के हिसाब से सुबह नौ बजे यह व्यक्ति चार्ल्स फोरियर नर्सरी में आया और दोनों तलवारे हवा में घुमाते हुए बोला कि उसे कुछ चाहिए. शुरुआत में उसने 20 बच्चों को बंधक बना लिया था लेकिन बाद में 14 को छोड़ दिया और दोपहर एक बजे के आसपास सभी बच्चों को और टीचर को जाने दिया.

उसने ऐसा क्यों किया इसका कारण अभी भी पता नहीं है. हालांकि एक दूसरे अधिकारी ने बताया कि वह अवसाद और मानसिक रोग से परेशान था. मेयर के कार्यालय के अधिकारी जॉं मार्क माग्दा ने बताया कि वह पर्सनालिटी डिसऑर्डर से ग्रस्त है. उसके डॉक्टर से संपर्क किया गया है.

सुबह किंडरगार्टन से सुरक्षित बाहर लाए गए बच्चों और टीचर्स को दूसरे स्कूल में भेजा गया.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा एम

संपादनः एन रंजन