1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

फ्रांस के पेट्रोल पंप सूखे, बचत में डाला हाथ

फ्रांस ने हड़ताल के कारण कम होती पेट्रोल आपूर्ति के बाद पेट्रोल के बचत खाते में हाथ डाला है. सोमवार को भी देश की 12 तेल रिफाइनरीज बंद रहीं. बुधवार को सीटीजी ने फ्रांस के एयरपोर्टों पर हड़ताल बुलाई.

default

फ्रांस के सबसे बड़े कर्मचारी संघ ने कर्मचारियों से कहा है कि वह बुधवार को एयरपोर्ट्स पर इकट्ठा हों. बुधवार को ही फ्रांस की संसद में पेंशन रिफॉर्म बिल पर मतदान होना है. सीटीजी के एक अधिकारी ने कहा कि विरोध प्रदर्शन के जरिए एयरपोर्ट की नाकेबंदी नहीं की जाएगी लेकिन ये एक विकल्प हो सकता है.

सोमवार को फ्रांस के करीब एक हजार पेट्रोल पंप सूखे पड़े रहे. इस कारण उन्होंने अपने रिजर्व को खंगालना शुरू किया है. फ्रांस के पास 98 दिन का तेल रिजर्व है. ये दूसरा सप्ताह है जब फ्रांस कि तेल रिफाइनरी के कर्मचारी हड़ताल पर हैं.

फ्रांस के आपात नीति विभाग के प्रमुख आड फान बोहेमेन के हवाले से रॉयटर्स समाचार एजेंसी ने लिखा है कि फ्रांस ने अपने रिजर्व का इस्तेमाल शुरू कर दिया है. 12 ऑइल रिफाइनरीज में सात दिन से और फ्रांस के मुख्य बंदरगाह वोस लावेरा पर तीन हफ्तों की हड़ताल के कारण फ्रांस की हालत फिलहाल खराब है.

Proteste gegen Rentenreform Frankreich

सोमवार को ट्रकों ने राजमार्गों पर गो स्लो अभियान चलाया. रेल की हड़ताल भी गंभीर स्थिति में पहुंची हुई है. अभी ये साफ नहीं है कि फ्रांस के 12 हजार पेट्रोल पंपों में से कितने का पेट्रोल खत्म हो गया है. लेकिन कहा जा रहा है कि 500 से हजार के बीच पेट्रोल पंप सुपरमार्केट से जुड़े हुए हैं. फ्रांस के 60 फीसदी पेट्रोल पंप सुपरमार्केट चलाते हैं. दक्षिणी फ्रांस में एक्सॉन की रिफाइनरी काम कर रही है और उत्पादन बहुत कम है. एक्सॉन के सीएफटीडी कर्मचारी संघ के अधिकारी ने कहा कि 21-22 अक्तूबर तक एक्सॉन में इसी तरह से काम होगा. उन्होंने ये भी कहा कि तेल आपूर्ति रोकी गई है.

फ्रांस के सबसे बड़े बंदरगाह मार्से में कर्मचारी सबसे ज्यादा उग्र तेवर दिखा रहे हैं. पिछले दिनों में उन्होंने कई बार हड़ताल की है जिस कारण यहां आर्थिक विकास को बहुत नुकसान पहुंचा. सीटीजी संघ के एक सदस्य ने कहा, सरकार जब सख्त हो जाती है तो हमें और सख्त होने की प्रेरणा मिलती है. जब तक सरकार नहीं हिलती हम भी नहीं हिलेंगे.

हड़ताल के बावजूद सरकार ने अभी नरमी का कोई रुख नहीं अपनाया है. फ्रांस में हड़ताल की एक लंबी परंपरा रही है.

फ्रांस के राष्ट्रपति निकोला सारकोजी रिटायरमेंट की आयु 60 से बढ़ा कर 62 करना चाहते हैं. जिसका पूरे फ्रांस में खासकर कर्मचारी संघों की ओर से व्यापक विरोध किया जा रहा है.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा एम

संपादनः महेश झा

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री