1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

फ्रांस का बगावत के बीच दक्षिण अफ्रीका से मुकाबला

भारी विवाद और पिछली हार के बाद फ्रांस को दक्षिण अफ्रीका से भिड़ना है. टीम पर बहुत ज्यादा दबाव है और अंदेशा है कि सीनियर खिलाड़ी आखिरी मौके में साथ छोड़ देंगे. अनेल्का को निकाले जाने के बाद टीम में गहरा असंतोष है.

default

फ्रांसीसी फुटबॉल टीम अपने खेल से नहीं, अपने विवादों से चर्चा में रहती है. चाहे वह जिनेदिन जिदान का हेडर हो, रिबेरे का सेक्स स्कैंडल, ऑनरी का हैंड बॉल या फिर अनेल्का के अपशब्द. वर्ल्ड कप में बाहर का रास्ता देखने की दहलीज पर खड़ी फ्रांसीसी टीम से कोई उम्मीद नहीं रह गई है.

मेजबान दक्षिण अफ्रीका से पहले दौर का आखिरी मुकाबला मंगलवार को खेला जाना है और फुटबॉल प्रेमियों को डर है कि यह मैच इस बार के वर्ल्ड कप में फ्रांस का आखिरी मैच साबित हो सकता है. एक हार और एक ड्रॉ के साथ पिछले साल फाइनल तक पहुंचने वाली टीम बेहद खराब स्थिति में है. खिलाड़ियों की बगावत अलग है.

NO FLASH Frankreich Streik WM 2010

फ्रांसीसी टीम से निकाले गए स्ट्राइकर निकोलस अनेल्का के समर्थन में रविवार को पूरी फ्रांसिसी टीम आ गई. कोच रेमंड डोमनिक के खिलाफ नाराजगी जाहिर करते हुए टीम ने अभ्यास करने से इनकार कर दिया. खिलाड़ियों ने अपने एक साझा बयान में कहा, ''फ्रांस की टीम के सारे खिलाड़ी बिना किसी अपवाद के निकोलस अनेल्का को बाहर निकाले जाने के फेडरेशन के फैसले का विरोध करते हैं.'' मीडिया के सामने यह बयान जारी करने के बाद फ्रांसीसी खिलाड़ी स्टेडियम से बिना अभ्यास किए बाहर निकले. बस में बैठे और होटल वापस चले गए.

खिलाड़ियों की बगावत के बाद कोच और फ्रांसीसी फुटबॉल फेडरेशन की खासी किरकिरी हो रही है. वर्ल्ड कप में टीम के खराब प्रदर्शन और बगावत के विवाद के बीच फ्रेंच फुटबॉल फेडरेशन के एक अधिकारी जीन लुई वैलेंटिन ने पद से इस्तीफा दे दिया है. रविवार को वैलेंटिन ने कहा, ''मैं अपने पद से इस्तीफा दे रहा हूं. मैं शर्मिंदा हुआ हूं और मैं फौरन पेरिस जा रहा हूं.''

विवाद में अब एक नया मोड़ और आ गया है. ऐसी खबरें हैं कि टीम मैनेजमेंट के ही किसी सदस्य ने मीडिया को अनेल्का और कोच के विवाद की जानकारी दी. शुरू में शक वैलेंटिन पर जताया गया. इसके जबाव देते हुए वैलेंटिन की आंखों में आंसू आ गए. उन्होंने सिर्फ ''नहीं, नहीं, नहीं'' कहा.

Fußball WM Weltmeisterschaft Uruguay Frankreich Anelka

फ्रांसीसी मीडिया में ऐसी खबरें है कि खिलाड़ियों और कोच डोमनिक के बीच जोरदार अनबन चल रही है. कप्तान थिएरी ऑनरी को डोमनिक पंसद नहीं करते, यही वजह है कि कप्तान होने के बावजूद डोमनिक उन्हें मैचों में उतरने ही नहीं दे रहे हैं. पहले मैच में ऑनरी मुश्किल से 20 मिनट के लिए मैदान पर उतरे, दूसरे मैच में तो वह तैयारी करते ही रह गए. फ्रांस को दूसरे मैच में मेक्सिको ने 2-0 से हराया.

इस बीच फुटबॉल के दंगल पर फ्रांस के राष्ट्रपति निकोला सारकोजी ने दखल दिया है. रविवार को सारकोजी ने खेल मंत्री को आदेश दिया कि वह तुरंत विवाद को हल करवाएं. खेल मंत्री से कहा गया है कि वह कप्तान, फुटबॉल फेडरेशन और कोच से बात करें और मामला शांत करवाएं. राष्ट्रपति चाहते हैं कि दक्षिण अफ्रीका से मैच के पहले ऐसा हो जाए.

रिपोर्टः एजेंसियां/ओ सिंह

संपादनः एन रंजन

संबंधित सामग्री