1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

फोन पर तालिबान से लड़ने की अपील की

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने पाकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी से फोन पर बातचीत कर तालिबान और अल कायदा के खिलाफ और कड़ी कार्रवाई करने को कहा. साथ ही वित्तीय सुधारों की भी अपील की.

default

व्हाइट हाउस ने जानकारी दी कि ओबामा ने पाकिस्तान को कर सुधार करने की भी अपील की ताकि वित्तीय मुश्किलें हल हो सकें.

अमेरिका ने पिछले ही सप्ताह पाकिस्तान को दो अरब डॉलर की सैन्य सहायता देने की घोषणा की है और वह चाहता है कि पाकिस्तान अल कायदा से जुड़े हक्कानी गुट पर सैन्य कार्रवाई करे. व्हाइट हाउस ने बयान जारी कर कहा, "ओबामा और जरदारी दोनों ने ही माना कि पाकिस्तान में आतंकी गुटों से पैदा खतरे से दोनों देशों को बचाने के लिए और कदम उठाए जाना जरूरी हैं."

पाकिस्तान के वरिष्ठ सैन्य अधिकारी का कहना है कि जब तक कबायली इलाकों में स्थिरता नहीं आ जाती वहां सैनिक कार्रवाई करना ठीक नहीं है. अमेरिका हालांकि पाकिस्तान को आतंक के खिलाफ लड़ाई में एक अहम साथी, सहयोगी बताता है लेकिन कई बार उसने आतंक के खिलाफ पाकिस्तान की प्रतिबद्धता पर सवाल भी उठाए हैं. ऐसी भी कई रिपोर्टें हैं कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ने आतंकियों की मदद की ताकि वह अफगानिस्तान में भारत का प्रभाव कम कर सके.

Präsidentenwahl in Pakistan - Zardari pixel

व्हाइट हाउस ने बयान में कहा, "दोनों नेता इस बात पर भी सहमत हुए कि पाकिस्तान और अमेरिका ने आपसी विश्वास को बनाने और सहयोग के लिए काफी मेहनत की है. दोनो ही ज्यादा मजबूत सामरिक रिश्ते बनाने के लिए प्रतिबद्ध भी हैं."

ओबामा ने पाकिस्तानी राष्ट्रपति से ये भी अपील की कि वह ऊर्जा के क्षेत्र में सब्सिडी कम करें.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा एम

संपादनः एमजी

DW.COM