1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

फॉर्मूला वन की महिला ड्राइवर

कोई तीन दशक बाद कोई महिला फॉर्मूला वन ट्रैक पर फर्राटा भरती दिख सकती है. विलियम्स ने सूजी वोल्फ को आगे बढ़ाया है, जो ब्रिटेन में अभ्यास कर रही हैं.

सूजी के इस कदम के साथ ही शायद फॉर्मूला वन, रफ्तार और तेजी को सिर्फ मर्दों के साथ जोड़ने की परंपरा खत्म हो सकती है. इससे पहले पहले भारतीय मूल की मोनिषा काल्टेनबॉर्न पिछले साल सॉबर टीम की प्रिसिंपल बनी थीं.

स्कॉटलैंड की सूजी शुक्रवार से ब्रिटेन की प्रतिष्ठित सिल्वरस्टोन रेसिंग ट्रैक पर अभ्यास करने वाली हैं. 30 साल की सूजी मर्सिडीज मोटरस्पोर्ट्स हेड और विलियम्स टीम के शेयरधारक टोटो वोल्फ की पत्नी हैं.

उन्होंने अपनी टीम की तरफ से जारी बयान में कहा, "मुझे यह एक शानदार मौका मिला है. अब यह मेरे ऊपर है कि मैं इस दिन के लिए खुद को कैसे तैयार करती हूं. यह एक बहुत बड़ी चुनौती है लेकिन सबसे ज्यादा जरूरी है कि मैं अपना काम बखूबी कर पाऊं. ताकि टीम मुझ पर प्रतियोगिता में हिस्सा लेने का भरोसा कर सके."

Formel 1 Präsentation Williams FW35 2013

विलियम्स कार के साथ सूजी

वह विलियम्स की कार डेवलपर हैं और उन्होंने 2011 में सिल्वरस्टोन में हुई प्रदर्शनी रेस में विलियम्स कार चलाई है, "मेरा ज्यादातर काम सिमुलेटर पर है, इसलिए यह दिन मेरे लिए खास है. इससे मैं समझ पाऊंगी कि ट्रैक पर कार कैसे नियंत्रित की जाती है."

सूजी बचपन से ही रेसिंग ट्रैक पर उतरती रही हैं और 1996 में वह ब्रिटेन की महिला कार्ट रेसर के खिताब से सम्मानित हो चुकी हैं. उन्होंने कई कार्टिंग प्रतियोगिताएं जीती भी हैं. उन्होंने 1999 में फॉर्मूला ए में हिस्सा लिया और 13वें नंबर पर रहीं.

फॉर्मूला वन में बरसों से कोई महिला ड्राइवर नहीं रही हैं. 1975 और 1976 में इटली की लेला लोम्बार्डी ने 12 रेसों में हिस्सा लिया था और अंक जुटाने वाली वह दुनिया की इकलौती महिला फर्राटा रेसर हैं. 1975 के स्पेन ग्रां प्री में वह छठे नंबर पर रही थीं. 1992 में इटली की ही जियोवाना अमाती ने क्वालीफाई करने की कोशिश की थी, जिसमें वह नाकाम रहीं. लेकिन वोल्फ लगातार इस दिशा में काम कर रही हैं और कई बार तो उन्होंने फॉर्मूला वन चैंपियन किमी राइकोनेन के बराबर समय भी निकाला है.

हालांकि सूजी 30 साल की हो चुकी हैं, जिसे फॉर्मूला वन ड्राइवरों की ढलती उम्र कहा जाता है. चर्चा है कि अपने पति और महिला होने की वजह से ही उन्हें यह मौका मिल रहा है. पर सूजी इस बात से इनकार करती हैं, "मुझे अच्छे से पता है कि मुझे अच्छा प्रदर्शन करना है. लेकिन अगर मुझ में तेजी नहीं होती, तो शायद मैं यहां होती ही नहीं."

टीम विलियम्स का कहना है, "यह हमारे लिए महान क्षण है कि हम सूजी को इसका मौका दे रहे हैं."

एजेए/एमजे (एपी, रॉयटर्स)

DW.COM

WWW-Links