1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

फैसल- आतंक का नया पढ़ा लिखा चेहरा

न्युयॉर्क के टाइम्स स्क्वेयर पर बम रखने का आरोपी फ़ैसल, पाकिस्तान के पूर्व एयर मार्शल का बेटा है और संपन्न परिवार का है जिसके कारण वह आसानी से अमेरिका से पाकिस्तान यात्रा करता रहा.

default

संपन्न परिवार, ख़ूबसूरत चेहरा और तेज़ दिमाग. चरमपंथी विचारधारा को फैलाने वाले लोगों के लिए एक आदर्श व्यक्ति फ़ैसल शहज़ाद. अपनी संपन्न पारिवारिक पृष्ठभूमि के कारण उसे कभी अमेरिका आने जाने में परेशानी नहीं हुई.

चरमपंथ का निशान नहीं

पाकिस्तान में फ़ैसल के दोस्तों और रिश्तेदारों का कहना है कि 18 साल की उम्र में जब वह अमेरिका पढ़ने गया तो उसमें चरमपंथी विचारधारा के संकेत नहीं दिखाई दिए. साथ ही स्थानीय लोगों ने यह भी जानकारी दी कि उसका परिवार रुढ़िवादी धार्मिक नहीं है. आख़िरी बार वह पांच महीने के लिए पाकिस्तान आया और फरवरी में लौटा.

New York Time Square Bombe

जांच में लगी एफबीआई

एक रिश्तेदार का कहना था कि अमेरिका से आने के बाद फ़ैसल बहुत धार्मिक विचारधारा वाला हो गया, लेकिन जब वह यहां रहता था तो वो ऐसा नहीं था.

पूछताछ जारी

अब अमेरिकी जांच एजेंसी एफबीआई फ़ैसल के बारे में पाकिस्तान में पूछताछ कर रही है. अमेरिकी नागरिक होने के कारण फ़ैसल ने वकील की मांग की है. पुलिस का कहना है कि वह जानकारी देने में पूरा सहयोग कर रहा है इसलिए हो सकता है कि शुरुआती दौर में उसे अदालत में हाज़िर नहीं होना पड़े. जांचकर्ताओं का कहना है कि फैसल उन्हें पूरी जानकारी दे रहा है कि उसने अमेरिका से बाहर क्या किया.

न्यूयॉर्क के टाइम्स स्वायर पर बम को विफल करने के दो दिन बाद फ़ैसल को पुलिस ने पाकिस्तान जाने की तैयारी में एयरपोर्ट पर पकड़ा. अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने एक बार फिर ज़ोर दिया है कि नो फ्लाई सूची में शामिल लोगों पर कड़ी नज़र रखी जानी चाहिए. जिस दिन फ़ैसल पाकिस्तान के लिए रवाना हो रहा था उसी सुबह उसका नाम प्रतिबंधित लोगों की सूची में शामिल हुआ था.

इस बीच कई ग़िरफ़्तारियां पाकिस्तान में भी हुई है. अमेरिकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता पीजे क्राउले ने पाकिस्तान में गिरफ्तार लोगों की संख्या की पुष्टि नहीं की है.

New York Time Square Bombe

संपन्न परिवार से है फैसल

अमेरिका में बहस अब मानवाधिकारों पर भी हो रही है. आतंकवाद के आरोप में पकड़े गए लोगों को क्या सामान्य अपराधियों की तरह अधिकार दिए जाने चाहिए यह अमेरिका में राजनीतिक बहस का बड़ा मुद्दा है. राष्ट्रपति बराक ओबामा अधिकारों को दिए जाने के ख़िलाफ हैं और संदिग्ध आतंकियों को दुश्मन की तरह मानते हैं. जबकि संघीय जांचकर्ताओं का कहना है कि वे संदिग्धों से सूचना इकट्ठी करने में सफल रहे हैं.

नया चेहरा

ख़ूबसूरत चेहरे के मालिक फ़ैसल को देखकर कोई अंदाज़ा भी नहीं लगा सकता कि इस व्यक्ति के दिमाग में गहरे तक कट्टरपंथी विचार भरे हुए हैं. फ़ैसल बजट विश्लेषक के तौर पर क्नेक्टिकट राज्य की एक मार्केटिंग कंपनी में काम करता था. तीस साल के फ़ैसल ने स्वीकार किया है कि उसने पाकिस्तान में बम बनाने की ट्रेनिंग ली और इस ट्रेनिंग को वह हकीकत में बदलना चाहता था. स्थानीय व्यक्ति की सूझ बूझ से पुलिस समय पर बम को निष्क्रिय कर पाई और बड़ी वारदात होने से टल गई.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा मोंढे

संपादनः ओ सिंह

संबंधित सामग्री