1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

फैसले पर मीडिया में अफरा तफरी

अयोध्या विवाद पर फैसले को देखते हुए लखनऊ की अदालत परिसर की घेराबंदी कर दी गई और मीडिया सहित किसी को भी परिसर में जाने की इजाजत नहीं मिली. पर मीडिया जहां जमा थी वहां वकीलों की वजह से अफरा तफरी मच गई.

default

आमतौर पर भारतीय मीडिया किसी बड़ी घटना के बाद अफरातफरी मचाने के लिए बदनाम रहा है. लेकिन इस बार वकीलों की वजह से मीडिया हॉल में अजीब से हालत नजर आई.

जस्टिस डीवी शर्मा, सुधीर अग्रवाल और एसयू खान ने जैसे ही अयोध्या की विवादित जमीन की मिल्कियत वाले मामले में फैसला सुनाया. अलग अलग पक्षों के वकील अपनी बात कहने भागकर मीडिया रूम में पहुंच गए और अपनी अपनी तरह से फैसले की व्याख्या करने लगे.

एक मौका ऐसा भी आया कि मंच पर लगभग 20 वकील एक साथ चढ़कर एक साथ बोलने लगे. ऐसे में किसी की बात साफ सुनाई नहीं पड़ी. संयमित ढंग से वहां जमा मीडिया अलग अलग वकीलों की बात सुनने की कोशिश करता रहा लेकिन काफी देर तक अव्यवस्था बनी रही.

फैसला सुनाए जाने के बाद दोनों ही पक्षों के वकीलों ने तर्जनी और मध्यमा अंगुलियों को उठाकर जीत का इशारा किया. फैसले के फौरन बाद इसकी कॉपी उपलब्ध नहीं कराई गई और वकील जो कुछ भी कह रहे थे उसे ही उपयुक्त मानना सबकी मजबूरी थी.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ए जमाल

DW.COM