1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

फेसबुक ट्विटर से दूर, एड्स के लिए 1 करोड़ डॉलर

उम्मीद से थोड़ा ज्यादा वक्त जरूर लगा लेकिन मशहूर लोगों की कवायद रंग लाई. कुछ मशहूर हस्तियों ने सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर और फेसबुक से दूर रह कर एड्स पीड़ितों के लिए 1 करोड़ डॉलर की रकम जुटा ली.

default

पहली दिसंबर को एड्स दिवस के मौके पर इस अभियान का आगाज हुआ. एलिशिया की और उसके सेलिब्रिटी दोस्त जस्टिन टिम्बरलेक, रेयान सियाक्रेस्ट, लेडी गागा, किम कार्दाशियान और उशर जैसी मशहूर हस्तियों ने शपथ ली की जब तक वो एड्स पीड़ितों के लिए एक करोड़ डॉलर नहीं जुटा लेते सोशल नेटवर्किंग साइट पर उनका अकाउंट ताबूत में बंद रहेगा. पांच दिनों तक उनके प्रेमी बेचैन रहे और टेलिविजन शो में उनका मजाक भी उड़ाया जाने लगा. यहां तक कहा गया कि इनकी लोकप्रियता में कोई दम नहीं और इन्हें रकम जुटाने में सालों लग जाएंगे.

सोमवार को दवा कंपनी के मालिक स्टेवार्ट रैह रैह के पांच लाख डॉलर के दान के साथ ही जमा हुए रकम का आंकड़ा पूरा हो गया. इस रकम का इस्तेमाल भारत और अफ्रीका के एड्स पीड़ितों की मदद में किया जाएगा. रकम पूरी होने के साथ ही सेलिब्रिटी अपने ट्विटर और फेसबुक पर ताबूत से बाहर निकले इसके साथ ही उनके प्रेमियों ने राहत की सांस ली.आखिरकार ये एक दो सौ लोगों नहीं लाखों लोगों से जुड़ा मामला था. अकेले लेडी गागा के ही ट्विटर पर 73 लाख दोस्त हैं. जास्टिन टिम्बरलेक के पास 36 लाख तो सियाक्रेस्ट के 37 लाख दोस्त हैं. अब जिनके इतने सारे दोस्त हो उनके लिए एक करोड़ डॉलर की रकम भला क्या चीज है. पांच दिन जरूर लगे लेकिन लक्ष्य हासिल हो गया.

Lady Gaga

लोगों को उम्मीद थी कि कुछ ही पलों में ये रकम जुटा ली जाएगी पर ऐसा हुआ नहीं. दान की रकम ए लाख और दो लाख डॉलर तक ही पहुंच पाई थी ऐसे में इन मशहूर हस्तियों को मजाक भी बनने लगा. इंटरनेट, रेडियो और टीवी शो में इन पर फब्तियां भी कसी जाने लगीं कई लतीफे भी आनन फानन में बन गए. पर अब सब खामोश हैं और जिक्र हो रहा है तो सोशल नेटवर्किंग साइट पर इनके दोबारा जिंदा होने की.

कार्दाशियन ने सबसे पहले लिखा,"मैं मौत के बाद वापस लौट आया हूं. आप सभी दान देने वाले लोगों का बहुत शुक्रिया मैं ने आप साबको बहुत याद किया." सियाक्रिस्ट ने ट्विट किया,"'ट्विटर पर वापसी के लिए बेचैन था, स्टेवी रा रा को उनके खुले दिल से आए दान के लिए बहुत शुक्रिया"

ग्रुप की तरफ से जारी बयान में कहा गया है,"हमने कभी नहीं सोचा था कि रातोंरात एक करोड़ डॉलर की रकम जमा हो जाएगी लेकिन एक हफ्ते से भी कम समय में ये हो गया और हम बेहद खुश हैं." इस अभियान के लिए 3600 से ज्यादा लोगों ने दान दिया.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः आभा एम

DW.COM

WWW-Links