1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

फेडरर से नहीं भिड़ना चाहते टोमिच

बैर्नार्ड टोमिच ने जर्मन खिलाड़ी डानियल ब्रांड्स को हरा कर ऑस्ट्रेलियन ओपन में रोजर फेडरर से भिड़ने की संभावना बनाए रखी है. उन्होंने मेलबर्न पार्क में जर्मन क्वालिफायर को कड़े मुकाबले में पटकनी दी.

ऑस्ट्रेलिया के 20 वर्षीय उभरते सितारे टोमिच के पिता क्रोएशियाई और मां बोस्निया की हैं. जर्मनी में पैदा हुए टोमिच ने तीसरे राउंड में पहुंचने के लिए ब्रांड्स को 2 घंटे 55 मिनट में 6-7, 7-5, 7-6, 7-6 से हराया. ब्रांड्स ने सात बार मैच बॉल को हार में बदलने से रोका. सिडनी इंटरनेशनल जीतने के बाद टोमिच का अविजित अभियान जारी है. शनिवार को तीसरे राउंड में टोमिच की मुलाकात फेडरर से हो सकती है, यदि 17 बार ग्रैंड स्लैम जीतने वाले फेडरर रूस के निकोलाई डेविडेन्को को हरा पाते हैं. फेडरर और डेविडेन्को का मुकाबला गुरुवार को है, फेडडर का रिकॉर्ड 17-2 का है.

मैच जीतने के बाद टोमिच ने ब्रांड्स के बारे में कहा, "अप्रत्याशित रूप से उसने बहुत अच्छा खेला. एक सेट हारने के बाद मैं बहुत अच्छा महसूस नहीं कर रहा था, लेकिन बाजी पलटने में कामयाब रहा." अगले राउंड में टोमिच डेविडेन्को के खिलाफ खेलना चाहते हैं और उम्मीद कर रहे हैं कि डेविडेन्को फेडरर को हरा दें. फेडरर के बारे में वह कहते हैं, "वे अद्भुत खिलाड़ी हैं. मैं डेविडेन्को के खिलाफ खेलना पसंद करूंगा."

ब्रांड्स तो अपनी बाधा पार नहीं कर पाए, उनके साथ अनिका बेक और फ्लोरियान मायर भी टूर्नामेंट से बाहर हो गए लेकिन फिलिप कोलश्राइवर पुरुषों के मुकाबले में तीसरे राउंड में पहुंच गए हैं. फिलिप कोलश्राइबर ने इस्राएल के आमिर वाइनट्राउब को 6-2,7-6,6-4 से हराया. अब उनका मुकाबला कनाडा के मिलोस राउनिच से होगा. मेलबर्न के गर्म मौसम में कोलश्राइबर ने संयम दिखाया. डेविस कप में खेलने वाले पेशेवर खिलाड़ी ने जीत के बाद कहा, "मैं समझता हूं कि यह बहुत ही केंद्रित प्रदर्शन था." आसान शुरुआत के बाद उन्हें जीतने के लिए कड़ा संघर्ष करना पड़ा.

ब्रांड्स के विपरीत जर्मनी के फ्लोरियान मायर और महिला खिलाड़ी अनिका बेक अपने मुकाबलों में कमजोर रहीं. 18 साल की बेक को जापान की आयुमी मोरिता ने 6-2, 6-0 से आसानी से हरा दिया. बेक पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम में दूसरे राउंड में पहुंची थीं. उन्होंने कहा, "संभव है कि तनाव बहुत ज्यादा था और मेरे दिमाग में कहीं था कि उसके बाद क्या हो सकता है. रॉड लेवर एरेना में सेरेना विलियम्स से मुकाबला. शायद इसलिए मैं असहज थी." इससे पहले महिलाओं के वर्ग में आंजेलिक कैर्बर और जूलिया गॉर्गेस तीसरे राउंड में पहुंचे चुकी हैं.

टूर्नामेंट में 25वीं वरीयता वाले मायर लिथुएनिया के रिकार्डास बेरांकिस से 2-6, 3-6, 1-6 से हार गए. पहले राउंड में अमेरिका के राइन विलियम्स को पांच सेटों में हराने के लिए उन्होंने संघर्ष किया था लेकिन बेरांकिस के सामने उन्होंने वह जज्बा नहीं दिखाया. मैच के बाद मायर ने कहा, "मुझे भी नहीं पता कि मुझे क्या हुआ है. मैंने अच्छी ट्रेनिंग की थी. अब मुझे इस मैच को भूल कर आगे की ओर देखना है."

सेरेना विलियम्स और विक्टोरिया आजारेंका बिना किसी मुश्किल के अगले राउंड में पहुंच गई हैं. टाइटलधारी आजारेंका ने ग्रीस की एलेनी डानिलिडू को 6-1, 6-0 से हराया. विलियम्स ने स्पेन की गार्बीने मुगुरूजा को 6-2, 6-0 से मात दी.

एमजे/एजेए (एएफपी, डीपीए)

DW.COM

WWW-Links