1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

फेडरर के बराबर सेरेना

सेरेना विलियम्स करियर का 17वां खिताब जीत कर भले ही स्टेफी ग्राफ, क्रिस एवर्ट, मार्टिना नवरातिलोवा के रिकॉर्डों के नजदीक आ गई हों लेकिन फिलहाल उनके पास जश्न मनाने की कोई और वजह है.

14 साल पहले यूएस ओपन का पहला खिताब जीतने वाली सेरेना विलियम्स ने इस साल इस खिताब को जीतने के लिए विक्टोरिया अजारेंका को 7-5, 6-7 (6-8), 6-1 से मात दी. इस जीत के बाद सेरेना को ज्यादा खुशी इस बात की है कि उन्होंने रोजर फेडरर के रिकॉर्ड खिताबों की बराबरी कर ली है. 31 साल की सेरेना कहती हैं, "रोजर के साथ होना ही एक सम्मान है. इतने सालों में वो इतने शानदार चैंपियन रहे हैं. अविश्वसनीय प्रतिद्वंद्वी और वो अभी भी खेल रहे हैं. हो सकता है वो और जीतें. उनके साथ एक ही लीग में होना सच्ची खुशी की बात है. वो लगातार अच्छा खेले हैं, लेकिन हमारा करियर एकदम अलग अलग रहा."

महिला टेनिस के रिकॉर्डों से तुलना करने पर सेरेना कहती हैं, "मैं अभी वहां तक नहीं पहुंची हूं. मैं खुद की तुलना उनसे (एवर्ट और नवरातिलोवा) नहीं कर सकती. क्योंकि आंकड़ों में वो अभी बहुत आगे हैं."

डबल्स में अपनी बहन वीनस के साथ सेमीफाइनल्स में हार जाने को उन्होंने अपनी जीत का कारण बताया और कहा, "मैं करीब दो तीन हफ्ते इतनी एकाग्र थी और अब मुझे समझ में आ रहा है कि यह एक तरह की दीवानगी थी. मैं अपने कमरे, अपने जोन से बाहर नहीं गई और उसी खेल वाले जज्बे में बनी रही. खास बात यह है कि मैं आखिरकार खिताब तक पहुंच ही गई और यह शानदार है." वो कहती हैं कि 17 साल में इस खिताब को जीतने के बाद 31 की उम्र में फिर से इसे जीतना बहुत अच्छा है. "तीन दशकों के दौरान मैंने ये टूर्नामेंट जीती है. 90 के दशक में फिर 2000 में और अब. मुझे खुशी है कि मुझे ये मौका मिला."

आगे के लक्ष्यों के बारे में तो सेरेना विलियम्स ने ज्यादा नहीं बताया लेकिन उन्होंने ये जरूर कहा कि वह टोक्यो और बीजिंग के एशियाई खेलों में जरूर खेलेंगी.

एएम/एनआर (डीपीए, रॉयटर्स)

DW.COM