1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

फेटल के हीरो मिषाएल शूमाकर

फॉर्मूला वन के वर्ल्ड चैंपियन सेबास्टियान फेटल ने मिषाएल शूमाकर को अपनी प्रेरणा बताते हुए उन्हें हीरो कहा. शूमाकर ब्राजिलियाई ग्रां प्री के बाद संन्यास लेने की घोषणा पहले ही कर चुके हैं. उनकी जगह लुइस हैमिल्टन लेंगे.

सात बार के चैंपियन रहे शूमाकर के साथ बैठे हुए फेटल ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, वह उन दिनों में हमारे लिए सच्ची प्रेरणा थे, मेरे लिए भी और बाकी बच्चों के लिए भी. वह हमारे हीरो थे. सेबास्टियान फेटल पहली बार शूमाकर से आठ साल की उम्र में मिले थे.

फेटल ने पुराने दिनों को याद करते हुए बताया कि कैसे फेरारी और लोकप्रियता के दिनों में शूमाकर ने केर्पन के सर्किट में मोटर स्पोर्ट की प्रतियोगिता में इनाम दिए थे.

वेटल ने बताया कि शूमाकर ने हर प्रतियोगी से बात की थी. "जब मैं पहली बार उनसे मिला तो मुझे समझ ही नहीं आया कि मैं कहूं क्या. क्योंकि मैं कुछ बहुत ही बेवकूफाना सा नहीं कहना चाहता था. अब जब मैं उनसे बात करता हूं तो ऐसा नहीं कि मैं अपने बचपन के हीरो से बात कर रहा हूं बल्कि लगता है कि मैं मिषाएल से बात कर रहा हूं. मैं एक व्यक्ति से बात करता हूं." फेटल का नाम बचपन में बेबी शूमी हुआ करता था. दोनों चैंपियनों में दोस्ती और पक्की तब हो गई जब शूमाकर 2010 में फॉर्मूला वन में लौटे.

यह पूछने पर कि क्या रिटायर होने पर शूमा

कर को दुख है.. उन्होने कहा, "शायद नहीं, ना. मैंने कोशिश की कि वह मिशन सफलतापूर्वक खत्म हो जाए. इस बार यह नहीं हो सका लेकिन मुझे यहां की पारी खत्म करने में खुशी है और अलग जीवन में जाने की भी."

उधर सीजन की आखिरी रेस ब्राजिलियाई ग्रां प्री में रोमांच चरम पर है क्योंकि आखिरी रेस में जीतने वाले पर निगाह रहेगी. पिछली रेस में फेटल नहीं जीत पाए थे.

इधर आखिरी नंबरों पर रहने वाली टीम एचआरटी का भविष्य डगमगाता हुआ दिख रहा है. टीम के कर्मचारियों को भी नहीं पता कि उनकी कंपनी बिक जाएगी या नहीं. स्पैनिश चालक पेद्रो दे ला रोसा के मुताबिक, " यह किसी के लिए भी आसान नहीं, खासकर मेकैनिक्स और इंजीनियरों के लिए. किसी को नहीं पता कि क्या होने वाला है. हम ऐसी संभावना ही जता सकते हैं कि टीम बनी रहेगी और हम अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दिखा सकेंगे. लोग बहुत व्यावसायिक हैं और जमीन से जुड़े हुए हैं मुझे उनके साथ काम करना अच्छा लगता है."

मैड्रिड की टीम तीन सीजन में एक भी अंक नहीं ले पाई है. पहले सीजन के बाद से ही वह आर्थिक मुश्किलो से जूझ रही है. और स्पेन के आर्थिक संकट ने मुश्किलें और बढ़ा दी हैं. फॉर्मूला वन की अधिकतर टीमें ब्रिटेन की हैं उन्हें सारी सुविधाएं आसानी से मिल जाती हैं. न तो सप्लाई में मुश्किल होती है और न ही एक्सपर्ट इंजीनयरों की. एचआरटी इकलौती टीम है जो स्पेन में है. टीम के मालिक थेसान कैपिटल ने इस महीने कहा था कि उनकी टीम बेची जाएगी और इसके लिए कुछ लोगों के बातचीत चल रही है. लेकिन उसके बाद कुछ नहीं हुआ.

एचआरटी में भारतीय चालक एन कार्तिकेयन भी हैं.

एएम/ओजे (रॉयटर्स)

DW.COM

WWW-Links