1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

फुटबॉल बने साहिन डॉर्टमुंड लौटे

जर्मनी के चोटी के फुटबॉल क्लब बोरुसिया डॉर्टमुंड ने शीतकालीन सत्र में बड़ा सौदा किया. डॉर्टमुंड ने अपने पूर्व खिलाड़ी को रियाल मैड्रिड से वापस लिया है. तुर्क मूल के नूरी साहिन ने इसे घर वापसी कहा है.

शुक्रवार को डॉर्टमुंड ने इस बात का एलान कर दिया कि साहिन उसके लिए खेलेंगे. साहिन मई 2011 में डॉर्टमुंड से रियाल मैड्रिड गए थे. प्रतिभाशाली होने के बावजूद साहिन को वहां ज्यादा मौके नहीं मिले. रियाल ने उन्हें एक करोड़ यूरो में खरीदा था. डॉर्टमुंड वापसी पर 24 साल के साहिन ने कहा, "मैं घर वापसी से खुश हूं. मुझे उम्मीद है कि मैं जल्द से जल्द टीम की मदद कर सकूंगा."

साहिन का रियाल मैड्रिड के साथ 2017 तक करार है. डॉर्टमुंड ने उन्हें रियाल से कर्ज पर लिया है. साहिन आगामी डेढ़ सत्र तक डॉर्टमुंड के लिए खेलेंगे. साहिन के क्लब करियर की शुरुआत 2005 में डॉर्टमुंड से ही हुई. तब वह 16 साल के थे और बुंडेसलीगा खेलने वाले सबसे कम उम्र के खिलाड़ी थे.

2010-2011 में डॉर्टमुंड को बुंडेसलीगा का चैंपियन बनाने में साहिन की बड़ी भूमिका थी. उनके जोरदार प्रदर्शन की वजह से ही रियाल मैड्रिड की नजर उन पर पड़ी. स्पेनी क्लब ने उन्हें भारी कीमत चुकाकर खरीदा. लेकिन ये ट्रांसफर निराशाजनक ही रहा.

घर से बाहर रहते हुए साहिन फीके से पड़ गए. रियाल पहुंचते ही वह चोटिल हो गए. कड़ी प्रतिद्वंद्विता की वजह से उन्हें सिर्फ चार लीग में ही खेलने को मिले. अगस्त में रियाल ने उन्हें इंग्लिश प्रीमियर लीग के क्लब लीवरपूल को लोन पर दे दिया. वहां भी साहिन बहुत असरदार नहीं रहे.

Nuri Sahin

लीवरपूल में साहिन

इस बीच क्लबों की प्रतिष्ठा में उतार चढ़ाव भी देखा गया. बोरुसिया डॉर्टमुंड मजबूत क्लब बनकर उभरा. चैंपियंस लीग में डॉर्टमुंड इस वक्त रियाल मैड्रिड से ऊपर है. लीग के मुकाबलों में जर्मन क्लब रियाल मैड्रिड को एक बार हरा चुका है और एक मैच बराबरी पर छूटा.

ऐसे में यह देखना दिलचस्प होगा कि साहिन डॉर्टमुंड के साथ अपनी खोई हुई लय हासिल कर पाते हैं या नहीं. डॉर्टमुंड इस साल बुंडेसलीगा की दौड़ में पिछड़ चुका है. क्लब तीसरे नंबर पर है, लेकिन डॉर्डमुंड को इसका बहुत ज्यादा मलाल भी नहीं है. जर्मन क्लब की निगाहें फिलहाल पूरी तरह चैंपियंस लीग पर टिकी हुई हैं.

रिपोर्ट: डेव रैश/ओएसजे

संपादन: आईबी

DW.COM

WWW-Links