1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

फुटबॉल प्रेमियों की अमीर दीवानगी

जर्मन फुटबॉल क्लबों की दीवानों ने भरी जेब. फैन्स के लिए बनाई गई क्लबों की टीशर्ट, टोपी, शॉल, झंडों से क्लबों ने कमाएं 17 करोड़ यूरो. टीशर्ट के अलावा बिकिनी और नेल पॉलिश भी बेची जा रही हैं.

default

इस बार जर्मन फुटबॉल लीग बुंडेसलीगा ने करीब 2.1 अरब यूरो कमा कर रिकॉर्ड बना दिया है. टिकट से ही क्लब के गल्ले में 44 करोड़ यूरो आए. लेकिन पसंदीदा क्लब के लिए लोग टिकट ही नहीं, फैन्स अपनी जेब हल्की करने से भी नहीं कतराते. इसलिए फैन आर्टिकल से क्लबों ने 17 करोड़ यूरो इकट्ठा किए.

चाहे 30 यूरो की शॉल हो या 120 यूरो का बाथ गाउन. बुंडेसलीगा के क्लब अपने फैन्स के लिए एक से एक चीजें बनाते हैं. बायर्न म्यूनिख ने इस तरह की चीजें बेचकर पांच करोड़ 70 लाख यूरो कमाए. डॉर्टमुंड भी इस कमाई में पीछे नहीं है. उन्होंने इस तीन करोड़ की कमाई की तो पिछले साल एक करोड़ का मुनाफा ले गए.

टीशर्ट बेस्ट

Souvenirs Fußball EM 2008

डॉर्टमुंड अपने क्लब की एक हजार चीजें बेचता है. इसमें बेबी सूट भी हैं और चादरें भीं. लेकिन सबसे ज्यादा बिकने वाला आइटम है टीम के रंगों वाला काला-पीला टीशर्ट. प्रति टीशर्ट कीमत 75 यूरो है और इस कीमत पर जर्मनी में तीन लाख शर्ट बिके हैं. वैसे भी सभी क्लब के फैन्स के लिए सबसे पसंदीदा टीशर्ट ही होता है.

बाजार मामलों के विशेषज्ञ, बोखुम यूनिवर्सिटी के यान वीसेके को इस पर कोई आश्चर्य नहीं होता क्योंकि इस तरह की चीजें क्लब का प्रतीक होती हैं. और इसीलिए कीमती होती हैं.

टोस्टर भी

डॉर्टमुंड के फैन्स अपने लिए 30 यूरो में एक टोस्टर भी खरीद सकते हैं. यह भी फैन्स ने काफी पसंद किया. काले पीले इस टोस्टर में जब कोई ब्रेड टोस्ट करता है तो डॉर्टमुंड का लोगो ब्रेड पर बन जाता है.

इसके अलावा अंडा रखने के लिए एग कप, कॉफी कप, और पालतू जानवरों के लिए खाने का बोल भी बेचा जाता है. साथ ही बीयर और सॉसेज तो भूला ही नहीं जा सकता. बीवीबी अब सरसों की चटनी की पेशकश भी करने वाला है.

महिलाओं के लिए भी

Fußball Europameisterschaft EURO 2012 Maskottchen, Flash-Galerie Gastgeberstädte

बुंडेसलीगा क्लबों ने इस बीच महिलाओं को भी अपनी ओर आकर्षित करने का फैसला किया है. क्योंकि कुछ ही साल में स्टेडियम में आने वाली महिलाओं की संख्या एक करोड़ चालीस लाख हो गई है. इसलिए एफसी शाल्के क्लब की पेशकश है रॉयल ब्लू कलर का नेलपॉलिश. वहीं बायर्न के सामान में बिकने के लिए बिकिनी भी है. महिलाओं के लिए सामान बनाना अच्छा आयडिया भी है क्योंकि फैन आर्टिकल का 26 फीसदी महिलाएं ही खरीदती हैं.

रिपोर्टः क्लाउस डेउस/आभा मोंढे

संपादनः मानसी गोपालकृष्णन

DW.COM

WWW-Links