1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

फीफा का ब्लड प्रेशर बढ़ाता ब्राजील

दुनिया के सबसे लोकप्रिय खेल फुटबॉल की सर्वोच्च संस्था फीफा का मुनाफा मामूली रूप से बढ़ा है. फीफा को उम्मीद है कि इस साल का वर्ल्ड कप इसमें जोरदार उछाल लाएगा, लेकिन फिलहाल ब्राजील से आ रहे संकेत चिंता में डाल रहे हैं.

फीफा ने 2013 के खातों का हिसाब किताब सार्वजनिक किया है. संघ ने बीते साल 1.38 अरब डॉलर कमाए. अधिकारियों, रेफरियों और कर्मचारियों के वेतन के साथ नई तकनीक और फुटबॉल को बढ़ावा देने की कोशिशों में संघ ने 1.31 अरब डॉलर खर्च किए. कमाई और खर्च का हिसाब किताब करने पर संघ के पास 7.2 करोड़ डॉलर का मुनाफा बचा.

हालांकि संघ ने फीफा अध्यक्ष सेप ब्लाटर की तनख्वाह और उन्हें मिलने वाले भत्तों की जानकारी नहीं दी. बस इतना ही बताया गया कि ब्लाटर और फीफा के दूसरे वरिष्ठ अधिकारियों को बीते साल कुल 3.6 करोड़ डॉलर का बोनस मिला.

Itaquerao Stadion Sao Paulo Brasilien 15.03.2014

साओ पाउलो स्टेडियम

माना जा रहा है कि इस साल फीफा की कमाई आसमान छुएगी. जून और जुलाई में ब्राजील में फुटबॉल वर्ल्ड कप होना है. लेकिन फिलहाल संस्था ब्राजील वर्ल्ड कप को लेकर कुछ चिंतित लग रही है. वर्ल्ड कप सिर पर है और ब्राजील के तीन स्टेडियम पूरी तरह तैयार नहीं हैं.

पहला मैच साओ पाउलो स्टेडियम में खेला जाना है, स्टेडियम के प्रेस रूम और एक्सरे सिक्योरिटी चेकिंग एरिया में अब भी काम चल रहा है. फीफा ने महासचिव जेरोम वालके को अगले हफ्ते ब्राजील जाने का टिकट थमाया है. वहां वह तैयारियों का जायजा लेंगे.

शुक्रवार को ज्यूरिख में हुई फीफा की बैठक में 2018 और 2022 के वर्ल्ड कप के बारे में भी बातचीत हुई. क्रीमिया संकट के बाद फीफा पर दबाव बन रहा है कि वो रूस से 2018 वर्ल्ड कप की मेजबानी को लेकर दबाव बनाए. कतर को लेकर भी आम राय कड़वी बन रही है. ये दोनों वर्ल्ड कप फीफा के नए अध्यक्ष की अगुवाई में होंगे. अध्यक्ष पद के लिए अगले साल चुनाव होगा.

ओएसजे/एजेए (एएफपी, एपी)

संबंधित सामग्री