1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

फिल्म इंडस्ट्री में शबाना के 40 वर्ष

बॉलीवुड में अपने संजीदा अभिनय के लिए मशहूर शबाना आजमी ने फिल्म इंडस्ट्री में 40 वर्ष पूरे कर लिए हैं. उन्होंने अपने यथार्थवादी अभिनय के जरिए दुनिया भर में भारतीय फिल्मों को स्थापित करने में भी मदद की है.

शबाना ने अपने सिने करियर की शुरूआत 1974 में प्रदर्शित श्याम बेनेगल की फिल्म अंकुर से की. यह फिल्म हैदराबाद की एक सत्य घटना पर आधारित थी. इस फिल्म में शबाना ने लक्ष्मी नामक एक ऐसी ग्रामीण युवती का किरदार निभाया जिसे शहर से आए एक कॉलेज स्टूडेंट से प्यार हो जाता है. फिल्म के निर्माण के समय बेनेगल ने अपनी कहानी कई अभिनेत्रियों को सुनाई लेकिन सभी ने फिल्म में काम करने से मना कर दिया.

करियर के शुरुआती दौर में इस तरह का किरदार किसी भी अभिनेत्री के लिए जोखिम भरा काम हो सकता था लेकिन शबाना ने इसे एक चुनौती के रुप में लिया और अपने सधे हुए अभिनय से समीक्षकों के साथ ही दर्शकों का भी दिल जीतकर फिल्म को सुपरहिट बना दिया. इस फिल्म में अपने दमदार अभिनय के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

बॉलीवुड में 40 साल पूरा करने के मौके पर शबाना आजमी ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर लिखा, "मेरी पहली फिल्म 40 साल पहले 24 सितंबर 1974 को प्रदर्शित हुई थी. अंकुर जैसी बेहरतीन फिल्म के जरिए मुझे लॉन्च करने के लिए मैं श्याम बेनेगल को धन्यवाद देती हूं. शबाना आजमी नई धारा की उन अभिनेत्रियों में शामिल हैं जिन्होंने कला फिल्मों के साथ व्यावसायिक फिल्मों में भी अपनी विशेष पहचान बनाई है.

एमजे/आईबी (वार्ता)

DW.COM

संबंधित सामग्री