1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

फिक्सिंग के बाद स्पांसर भी भागे

मैच फिक्सिंग की फांस में फंसे मोहम्मद आसिफ की फिल्म हाथ से निकल गई, तो दूसरे गेंदबाज मोहम्मद आमेर का विज्ञापन हाथ से निकल गया. क्रिकेट उत्पाद बनाने वाली पाकिस्तानी कंपनी बूम बूम ने आमेर के साथ करार रद्द कर दिया.

default

आमेर का करार गया

क्रिकेट की किट और दूसरे उत्पाद बनाने वाली कंपनी बूम बूम ने पाकिस्तानी राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के दूसरे सदस्यों के अलावा आमेर के साथ भी करार किया हुआ है. लेकिन मैच फिक्सिंग की रिपोर्टें आने के बाद इसमें फंसे आमेर के साथ कंपनी ने अपना रिश्ता तोड़ लिया है.

Pakistan Cricket Manipulation

कप्तान सहित क्रिकेटर फंसे

बूम बूम ने कहा है कि आमेर पर लगे आरोपों के बाद ऐसा करना जरूरी हो गया क्योंकि इससे कंपनी की छवि पर खराब असर पड़ सकता है. हालांकि आमेर का अपराध साबित होना अभी बाकी है. बूम बूम के प्रबंध निदेशक अली अहसान ने बताया, "क्रिकेट जगत के दूसरे लोगों की तरह हम भी इन आरोपों से बेहद सदमे में हैं और दुखी हैं. हम उम्मीद करते हैं कि आरोप सही न हों."

उन्होंने कहा, "हालांकि हम क्रिकेट के प्रेमी हैं. शुद्ध रूप से. हम इस बात में यकीन रखते हैं कि खिलाड़ियों को निष्पक्ष रूप से खेलने देना चाहिए. हम अपने ब्रांड को किसी दागदार व्यक्ति के साथ नहीं जोड़ सकते हैं."

बूम बूम ने कहा कि मोहम्मद आमेर के मामले को वह हल्के में नहीं ले सकते हैं और जब तक दूध का दूध पानी का पानी साबित नहीं हो जाता, वे उसके साथ इश्तिहार नहीं कर सकते. कंपनी ने कहा कि वह पाकिस्तान क्रिकेट टीम के किट के प्रायोजन पर भी विचार कर रहा है.

आमेर के अलावा पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद आसिफ और टेस्ट मैचों के कप्तान सलमान बट भी मैच फिक्सिंग के आरोप झेल रहे हैं और इंग्लैंड में उनके खिलाफ जांच चल रही है.

रिपोर्टः एएफपी/ए जमाल

संपादनः आभा एम

DW.COM

WWW-Links