1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

फाइनल की बर्थ बुक करना टीम इंडिया का लक्ष्य

ट्रायएंगुलर सीरिज के मैच में भारत का मुकाबला रविवार को श्रीलंका से होना है. भारत श्रीलंका को हरा कर टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाना चाहता है. पिछले मुकाबले में सहवाग को रणदीव की नो बॉल मिलने से शुरू हो गया था विवाद.

default

वीरेंद्र सहवाग को शतक बनाने से रोकने के लिए सूरज रणदीव ने जानबूझकर नो बॉल फेंकी लेकिन उनकी यह चाल सहवाग को रास नहीं आई और उन्होंने अपना क्षोभ जाहिर कर दिया. इसके बाद विवाद की शुरुआत हुई जो रणदीव पर एक मैच की पाबंदी के बाद ही खत्म हुआ. वैसे इस मैच में श्रीलंका पुराने विवाद को भूल कर जीत के लिए उतरना चाहेगी क्योंकि टूर्नामेंट में बने रहने के लिए उसे यह मैच जीतना बेहद जरूरी है.

Suraj Randiv

सूरज रांदीव

पिछले दो दिनों से हो रही लगातार बारिश के चलते न्यूजीलैंड और श्रीलंका के खिला मैच का रद्द करना पड़ा और मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले चार दिनों तक बारिश का साया बना रहेगा. यानी दांबुला स्टेडियम में मैच होने में और मुश्किलें सामने आएंगी. भारतीय टीम में युवराज सिंह की वापसी हुई है. उन्हें डेंगू बुखार का असर था लेकिन वह अब फिट बताए जा रहे हैं.

रोहित शर्मा और विराट कोहली की मौजूदगी के बावजूद भारत का मध्यक्रम कमजोर लग रहा है लेकिन युवराज की वापसी से उसे नई धार मिलने की उम्मीद है. युवी के आने से कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर भी दबाव कम होगा क्योंकि शुरुआती बल्लेबाजों के लौटने से पारी को संवारने का दबाव उन पर पड़ रहा था. भारत अगर यह मैच जीत जाता है तो वह फाइनल में पहुंच जाएगा. जीत की स्थिति में भारत के पास 9 अंक होंगे जबकि उसे एक मैच न्यूजीलैंड के खिलाफ खेलना है.

वहीं श्रीलंका अगर यह मैच हारता है तो उसके पास सिर्फ 6 अंक होंगे और उसके हिस्से के सभी मैच पूरे हो चुके होंगे. न्यूजीलैंड भी आरामदेह स्थिति में दिखाई दे रहा है. उसके पास 7 अंक हैं और भारत के साथ उसका मैच होना बाकी है. वैसे यह देखना दिलचस्प होगा कि सहवाग रणदीव के खिलाफ क्या रुख अपनाते हैं. न्यूजीलैंड के साथ मैच में रणदीव पाबंदी के चलते नहीं खेल पाए थे पर अब वह टीम में लौट आए हैं.

गेंदबाजी में भारत का प्रदर्शन अच्छा रहा है. आशीष नेहरा और प्रवीण कुमार ने टूर्नामेंट में अब तक पांच-पांच विकेट झटके हैं. पिछले मैच में प्रज्ञान ओझा और रवींद्र जडेजा ने भी ठीक ठाक गेंदबाजी कराई. वहीं श्रीलंका के लिए राहत की बात यही है कि उसका टॉप ऑर्डर अच्छी फॉर्म में है और महेला जयवर्धने पर भरोसा किया जा सकता है. जयवर्धने का साथ देने के लिए संगकारा, उपुल तरंगा और दिलशान हैं और वे भारत के लिए मुश्किल का सबब बन सकते हैं.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: आभा एम

WWW-Links