1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

फर्जी डिग्री मामले में दिल्ली के कानून मंत्री गिरफ्तार

दिल्ली के कानून मंत्री जितेंद्र सिंह तोमर को फर्जी डिग्री मामले में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उन्हें हौज खास थाने में रखा गया है.

आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर तोमर की गिरफ्तारी की पुष्टि की है. तोमर पर इस साल की शुरूआत में दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान कानून की फर्जी डिग्री जमा कराने का आरोप है. कल रात तोमर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गयी और आज सुबह पुलिस ने उन्हें घर से गिरफ्तार किया. दिल्ली के हौज खास थाने में सुरक्षा बढ़ा दी गयी है और पुलिस के एक दस्ते को वहां लगाया गया है.

तोमर पर आईपीसी की धारा 420, 467, 468 और 120 के तहत धोखेबाजी के मामले दर्ज किए गए हैं. दिल्ली के पुलिस कमिश्नर बीएस बस्सी ने गिरफ्तारी पर टिप्पणी करने से इंकार कर दिया है. उन्होंने कहा, "जिस वक्त गिरफ्तारी हुई, मैं मीटिंग में था. विस्तृत जानकारी मिलने के बाद ही मैं कुछ कह सकूंगा."

इस मामले को आप सरकार और दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर नजीब खान के बीच चल रही रस्साकशी से जोड़ कर देखा जा रहा है. आप पार्टी के नेता संजय सिंह ने केंद्र सरकार पर "दबाव बनाने की रणनीति" अपनाने का आरोप लगाते हुए कहा है, "यूनिवर्सिटी अदालत में अपना जवाब दर्ज कर चुकी है. उसने यह बयान भी दिया है कि डिग्री असली है. तो फिर उन्हें गिरफ्तार क्यों किया गया?"

समाचार एजेंसी पीटीआई से बात करते हुए संजय सिंह ने कहा, "इस तरह के पैंतरे अपना कर लेफ्टिनेंट गवर्नर, दिल्ली पुलिस कमिश्नर और मोदी सरकार मिल कर हमें डराने की कोशिश कर रहे हैं. लेकिन हम उनसे घबराने वाले नहीं हैं. भ्रष्टाचार के खिलाफ हमारी जंग जारी रहेगी."

हाईकोर्ट के आदेश पर दिल्ली बार काउंसिल ने जितेंद्र सिंह तोमर की डिग्री की जांच की. इसी दौरान दिल्ली पुलिस की एक टीम ने बिहार जा कर मामले की छानबीन की. बार काउंसिल ने डिग्री को फर्जी माना और दिल्ली पुलिस के पास एक शिकायत भी दर्ज कराई. इसी के चलते मामला गिरफ्तारी तक पहुंचा.

आईबी/एमजे (पीटीआई)

DW.COM

संबंधित सामग्री