1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

समाचार

फटाफट: एक नजर दुनिया पर

क्या रहीं आज की खास खबरें. एक नजर दुनिया भर की सारी बड़ी खबरों पर.

1. फ्रांसीसी चर्च हमला: पादरी को मारने वाले दो 'आईएस सिपाही'

मगलवार सुबह उत्तरी फ्रांस के एक चर्च में दो हथियारबंद हमलावरों के आक्रमण में चर्च का पादरी मारा गया. चर्च में प्रार्थना के दौरान हमलावर चर्च में घुसे और 84 वर्षीय पादरी और चार अन्य लोगों को बंधक बना लिया. पुलिस कार्रवाई और गोलीबारी में दोनों हमलावर मारे गए, लेकिन उन्होंने पादरी की जान ले ली. आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने हमलावरों को "आईएस के दो सिपाही" बताया है. फ्रांसीसी राष्ट्रपति फ्रांसुआ ओलांद ने शोक जताते हुए इसे "बेहद कायरना हत्याकांड" बताया.

2. 'अमेरिकी चुनाव: मिशेल ओबामा ने की ट्रंप की कड़ी निंदा''

अमेरिका की प्रथम महिला मिशेल ओबामा ने राष्ट्रपति पद के लिए डेमोक्रेट दल की उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन का समर्थन करते हुए विरोधी रिपब्लिकन उम्मीदवार डॉनल्ड ट्रंप की निंदा की. फिलाडेल्फिया में राष्ट्रीय कन्वेंशन में शिरकत करते हुए ओबामा ने कहा, "नफरत से भरी भाषा...जो प्रसिद्ध हस्तियां टीवी पर बोलती दिख रही हैं...वे इस देश की सच्ची भावना को प्रदर्शित नहीं करते."

3. जापान में चाकू हमले में 19 लोगों की मौत

जापान के सागामिहारा में मानसिक रोगियों के एक केयर सेंटर में हुए चाकू हमले में 19 लोगों की जान चली गई. ऐसे हमले जापान में आम नहीं हैं. ऐसी सामूहिक हत्या की घटना कई दशकों बाद वहां हुई है. पुलिस ने इस सेंटर में काम करने वाले एक पूर्व कर्मचारी को गिरफ्तार किया है. दुनिया के सबसे सुरक्षित देशों में गिने जाने वाले जापान में इस अप्रत्याशित हमले से लोग सकते में हैं.

4. मारा गया अफगानिस्तान में महत्वपूर्ण आईएस नेता साद एमाराती

अफगान सुरक्षा बलों ने बताया है कि इस्लामिक स्टेट आतंकी संगठन से जुड़ा एक नेता नंगरहार में सेना की कार्रवाई में मारा गया. साद एमाराती को अफगानिस्तान-पाकिस्तान में स्थापित आईएस के संस्थापक आतंकियों में से एक माना जाता है. उसने तालिबान और सरकार के खिलाफ कई हमले अंजाम दिए हैं. वह पहले तालिबानी कमांडर था. तालिबानी कंमाडर मुल्ला ओमर की मौत के बाद वह आईएस में शामिल हो गया. एक दिन पहले ही काबुल में आईएस के हमले में कम से कम 80 लोगों की जान गई है.

5. पूर्वोत्तर भारत के असम में बाढ़ का कहर

मॉनसून की भारी बारिश के कारण इस इलाके में एक लाख से भी अधिक लोग अपने घरों को छोड़कर राहत शिविरों में रहने को बाध्य हैं. बहुत सारे लोग अपने घरों में ही फंसे हुए हैं. सड़कों और टेलीफोन लाइनों का संपर्क टूट गया है. अब तक बाढ़ की चपेट में आने से कम से कम 7 लोगों की मौत की खबर है.

देखें दुनिया भर की टॉप खबरों का अंग्रेजी अपडेट-

#videobig#