1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

फटाफट: एक नजर दुनिया पर

क्या रहीं आज की खास खबरें. एक नजर दुनिया भर की सारी बड़ी खबरों पर.

अमेरिकी हवाई हमले रोकने की मांग, 56 मरे

विपक्षी सीरियाई राष्ट्रीय मोर्चे के प्रमुख ने सीरिया में इस्लामिक स्टेट के खिलाफ अमेरिकी नेतृत्व वाले हवाई हमले रोकने की मांग की है. मनबिज शहर के आसपास हुए हमलों में दर्जनों लोगों के मरने की खबर है. ब्रिटेन स्थित सीरियन मानवाधिकार ऑब्जर्वेटरी के अनुसार मंगलवार को हुए हमलों में कम से कम 56 असैनिक नागरिक मारे गए हैं. उधर संयुक्त राष्ट्र ने नाकेबंद शहर अलेप्पो में खाने पीने की चीजों की सप्लाई के लिए हर हफ्ते 48 घंटे के संघर्षविराम की मांग की है. वहां करीब ढाई लाख लोग भूखमरी का सामना कर रहे हैं

तुर्की ने कहा आपातकाल के बावजूद मौलिक अधिकारों पर रोक नहीं

राष्ट्रपति रेचेप तय्यप एर्दोआन द्वारा तुर्की में आपातकाल घोषित किए जाने के बाद तुर्की की सरकार देश की भावी नीतियों पर चिंताओं को दूर करने का प्रयास कर रही है. उप प्रधानमंत्री मेहमेत सिमसेक ने कहा है कि तुर्की का लोकतंत्र पहले से कहीं ज्यादा मजबूत है. उन्होंने ट्वीट किया है, "तुर्की की आपातकाल घोषणा में आने जाने, सभा करने और प्रेस की आजादी पर कोई प्रतिबंध नहीं लगाया गया है." इस बयान के बावजूद विदेशों में और विपक्ष के बीच चिंता बढ़ रही है. कुर्द पार्टी सीएचपी के सांसद सेजगिन तानरिकुलु ने कहा है कि आपातकाल की घोषणा के साथ हमलों का रास्ता तैयार किया गया है. आपातकाल अर्थव्यवस्था को भी अशांत कर रहा है. छह दिन पहले नाकाम रहे सैनिक विद्रोह के बाद से तुर्की में करीब 60,000 सैनिकों, पुलिसकर्मियों, अधिकारियों और शिक्षकों को या तो ससपेंड कर दिया गया है या गिरफ्तार किया गया है.

भारत और चीन सीमा विवाद पर आमने सामने

चीन से लगती सीमा पर भारत द्वारा सैन्य तैनाती बढ़ाने की खबरों पर चीन में प्रतिक्रिया हुई है. दोनों देशों के बीच सीमा विवाद दशकों पुराना है. चीन के सरकारी मीडिया ने कहा है कि इस हरकत का असर भारत में चीन के निवेश पर पड़ेगा. ग्लोबल टाइम्स में छपे एक लेख में कहा गया है, "यह बात परेशान करने वाली है कि एक तरफ तो भारत सीमा पर टैंक तैनात कर रहा है और दूसरी ओर चीन से निवेश के लिए कंपनियों को लुभाना चाहता है."

खालिदा जिया के बेटे को सात साल कैद की सजा

बांग्लादेश की विपक्षी नेता और पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया के बेटे को मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में सात साल कैद की सजा सुनाई गई है. 51 वर्षीय तारिक रहमान 2007 से लंदन में हैं जहां वे परिवार के अनुसार इलाज करवा रहे हैं. रहमान विपक्षी बांग्लादेश नेशनल पार्टी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष हैं और उन्हें दो बार प्रधानमंत्री रहीं खालिदा जिया का उत्तराधिकारी माना जाता है. अगर उनकी सजा को अपील अदालत खारिज नहीं करती है तो वे राजनीति में हिस्सा नहीं ले पाएंगे. हाई कोर्ट ने उनपर 20 करोड़ रुपये का जुर्माना भी किया है. अदालत ने कहा, "राजनीतिक संपर्कों का इस्तेमाल कर होने वाली इस तरह की मनी लॉन्ड्रिंग टिकाऊ आर्थिक विकास में बाधा डालती है."

रूस के खिलाड़ियों पर रियो ओलंपिक में भागीदारी पर रोक वैध

खेल अदालत सीएएस ने रूसी ओलंपिक समिति और 68 खिलाड़ियों की अपील खारिज कर दी है और कहा है कि उसके पैनल ने एकमत से रूसी एथलीटों की रियो ओलंपिक में भागीदारी पर रोक के अंतरराष्ट्रीय एथलेटिक्स फेडरेशन आईएएएफ के फैसले की वैधता की पुष्टि की. सीएएस ने कहा कि जिन देशों का राष्ट्रीय फेडरेशन निलंबित है वह ओलंपिक सहित अन्य अंतरराष्ट्रीय प्रतिस्पर्धाओं में भाग लेने के अयोग्य है. लेकिन सीएएस ने यह भी कहा है कि यह उसके अधिकार क्षेत्र में नहीं है कि अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति रूस के एथलीटों की हिस्सेदारी को स्वीकार करता है या नहीं. रूसियों की दलील थी कि उसके ट्रैक एथलीटों पर सामूहिक प्रतिबंध नहीं लगाया जा सकता. रविवार को अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति फैसला करेगी कि रूसी टीमें रियो ओलंपिक में भाग ले सकती हैं या नहीं.