1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

प्रेशर कूकर में रखा था बम

बोस्टन मैराथन में हुए बम धमाकों की जांच कर रहे अधिकारियों को अंदेशा है कि संदिग्धों ने ये भारी बम प्रेशर कूकर में रखे थे. अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इन्हें आतंकी घटना करार दिया है.

जांच अधिकारियों के मुताबिक हमलावरों ने इन बमों को प्रेशर कूकर में रखा और फिर नायलॉन बैग या रकसैक में भर कर घटनास्थल पर लाए. विस्फोटक 1.6 गैलन के प्रेशर कूकर में रखे गए थे. एक में धातु के टुकड़े और बॉल बेयरिंग थी जबकी दूसरे में कीलें. 11 सितंबर 2001 के बाद अमेरिका में यह सबसे बड़ा हमला है.

मैराथन आयोजन स्थल से मिले सामान को संघीय जांच एजेंसी एफबीआई की लैबोरेटरी में एक साथ रखा जा रहा है. बोस्टन धमाकों के जांच अधिकारी रिचर्ड डेसलॉरियर्स ने बताया, "जो सामान हमें अभी मिला है उसमें कुछ हिस्से नायलॉन की काली बैग के हैं जो किसी रकसैक का हिस्सा हो सकते हैं. और अभी जो बॉल बेयरिंग और कीलों जैसा दिख रहा है वह शायद प्रेशर कूकर का हिस्सा है. अब यह निश्चित हो गया है कि दोनों विस्फोटक काले रंग के नायलॉन के बैग या रकसैक में रखे थे. बैग निश्चित ही भारी होगा क्योंकि उसमें ये सामान भरा हुआ होगा." अभी तक किसी भी संदिग्ध को नहीं पकड़ा गया है. डेसलॉरियर्स ने कहा कि संदिग्ध और इरादों के बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता.

पीछे कौन

धमाकों की जिम्मेदरी अभी तक किसी ने नहीं ली है. हालांकि यमन के अल कायदा ने इंस्पायर के संस्करण में 2010 में विस्तार से बताया था कि प्रेशर कूकर बम कैसे बनाया जा सकता है. इस चैप्टर का नाम था, 'अपनी मम्मी की किचन में बम बनाओ.' इसके बाद एक पूर्वी अमेरिकी सैनिक नासेर जैसन अब्दो को प्रेशर कूकर बम से टेक्सास के एक रेस्तरां में बम धमाके की योजना बनाने के कारण आजीवन कारावास की सजा मिली.

अमेरिका के गृहसुरक्षा मंत्री जेनेट नैपोलितानो ने कहा है कि ऐसा कोई संकेत नहीं है कि ये बम धमाके किसी बड़ी षडयंत्र का हिस्सा हैं. ब्रिटेन, स्पेन के अधिकारियों ने कहा है कि लंदन और मैड्रिड मैराथन रविवार को योजना के तहत ही होगी लेकिन इनकी सुरक्षा योजना एक बार फिर से देखी जा रही है.

USA Anschlag Boston Marathon Explosion Trauer

शहर में शोक

176 घायल

सोमवार शाम हुए दो बम धमाकों में तीन लोगों की मौत हुई. धमाकों में कुल 176 लोग घायल हुए हैं जिनमें से 17 की हालत गंभीर है. राष्ट्रपति बराक ओबामा गुरुवार को मेमोरियल सर्विस में भाग लेने बोस्टन पहुंचेंगे. अमेरिका के बाकी शहरों में भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

बम धमाके में घायल कुछ लोगों के लिए डॉक्टरों ने कहा है कि पीड़ितों के कुछ और ऑपरेशन करने पड़ेंगे. बोस्टन चिल्ड्रन अस्पताल में ट्रॉमा सेंटर के निदेशक डेविड मूने कहते हैं, "जब ये बच्चे आए, इतने जले हुए थे. सिर्फ एक बाल शरीर पर था और बेहद दर्द. यह दिल दहलाने वाला था. छोटी बच्ची के शरीर से कीलें निकालना बहुत ही बुरा अनुभव था. "

वहीं मैसाचुसेट्स जनरल अस्पताल में ट्रॉमा सर्जरी प्रमुख डॉ जॉर्ज वेल्माहोस ने बताया, "कुछ पीड़ित आज जागे हैं. अपनी टांग खो चुके एक मरीज ने कहा कि वह जीवित बचने पर खुश हैं."

बोस्टन के रिवियर में एक अपार्टमेंट की तलाशी ली गई है लेकिन इस बारे में कोई जानकारी सार्वजनिक नहीं की गई. न्यूयॉर्क के केंद्रीय टर्मिनल ला गुआर्दिया को संदिग्ध पैकेट के कारण खाली करवाया गया. वहीं बोस्टन में दो लोगों और उनके सामान को एक फ्लाइट से निकाला गया लेकिन दोनों ही मामलों में अलार्म गलत था.

पुलिस और एफबीआई ने लोगों से अनुरोध किया है कि अगर मैराथन का कोई वीडियो और फोटो उनके पास हो जिसमें कुछ संदिग्ध दिखाई दे तो उसकी जानकारी दें या किसी ने कुछ संदिग्ध सुना हो उसके बारे में बताएं. बोस्टन की पुलिस और फायर फाइटर यूनियनों ने गिरफ्तारी करवाने वाली जानकारी देने पर 50000 डॉलर का इनाम रखा है.

चिट्ठी में जहर

अमेरिकी संघीय अधिकारियों ने एक चिट्टी पकड़ी है जिसमें रिसिन नाम का जहरीला पदार्थ वॉशिंगटन ऑफिस पहुंचा. ये चिट्ठी रिपब्लिकन सीनेटर रोजर विकर के नाम की थी. दूसरे सीनेटरों से सतर्क रहने को कहा गया है. बम धमाकों के बाद शुरू हुई जांच में सामान्य पत्र चेकिंग के दौरान यह खुलासा हुआ. ऐसी किसी और मेल के बारे में नहीं पता चला है. इस बारे में भी कोई जानकारी हासिल नहीं हो सकी है कि सीनेटर विकर को इस तरह की चिट्ठी किसने भेजी हो सकती है.

रिपोर्टः एएम/एनआर (रॉयटर्स, एपी)

DW.COM