1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

प्रीमियर लीग का धमाकेदार दौर

वर्ल्ड कप फुटबॉल के बाद अब यूरोप में फुटबॉल की सरगर्मी लौट रही है. सभी देशों में लीग मुकाबले होने वाले हैं और खास तौर पर इंग्लिश प्रीमयिर लीग पर नजर होगी. मैनचेस्टर यूनाइटेड अपने नए कोच के साथ उतरेगा.

पिछले सीजन में आखिरी दिन तक संघर्ष चला था, जिसमें मैनचेस्टर सिटी ने बाजी मारी थी. लेकिन टीम का मानना है कि इस सीजन में मुश्किलें और बढ़ सकती हैं. मैनेजर मानुएल पालेगरिनी का कहना है, "इस बार पांच या छह टीमों की जीत की संभावना है. लेकिन हमारे पास भी पिछले साल से ज्यादा मजबूत टीम है. हम उम्मीद करते हैं कि हम अपनी कामयाबी को दोहरा पाएं लेकिन उसके लिए ग्राउंड पर मेहनत करनी होगी."

हालांकि सिटी की टीम टूर्नामेंट से पहले के कर्टन रेजर मैच में आर्सेनल के हाथों 0-3 से हार गई. लेकिन मिडफील्डर याया टूरे का कहना है कि टीम पिछले सीजन से बेहतर हुई है.

Fußball WM 2014 Halbfinale Niederlande Argentinien Trainer

मैनचेस्टर यूनाइटेड चले फान खाल

नीली जर्सी वाली चेल्सी पर भी खास निगाहें होंगी, जहां खोसे मोरिन्यो कोच के तौर पर अपनी दूसरी पारी खेल रहे हैं और उन पर कामयाबी का भारी दबाव है. टीम ने बड़े खिलाड़ियों के लिए काफी पैसा खर्च किया है. यहां डियागो कोस्टा का साथ देने सेस्क फाब्रिगास भी पहुंच चुके हैं. मोरिन्यो का कहना है, "फाब्रिगास ही भविष्य हैं. इतिहास तो इतिहास होता है लेकिन मेरी नजर में फिलहाल भविष्य ज्यादा अहम है और फाब्रिगास में भविष्य दिखता है."

इन सबके अलावा खास नजर मैनचेस्टर यूनाइटेड पर होगी, जहां लुई फान खाल कोच के तौर पर शुरुआत करने वाले हैं. उनके नेतृत्व में नीदरलैंड्स की टीम इस साल के वर्ल्ड कप में तीसरे नंबर तक पहुंच गई थी. मैनयू के लिए पिछला सीजन बहुत खराब रहा था. वह सातवें नंबर पर रही थी और इसकी वजह से कोच डेविड मोयेस को इस्तीफा देना पड़ा था.

टीम के अहम खिलाड़ी और कामचलाऊ कोच रायन गिग्स का फान खाल के बारे में कहना है, "वह एक शानदार शख्सियत हैं. वह एक लीडर हैं और चाहते हैं कि सम्मान और अनुशासन का पालन हो."

आर्सेनल के कोच आर्सेन वेंगर ने एलेक्सिस सांचेज को बार्सिलोना से लाने में भारी खर्चा किया है और उन्हें उम्मीद है कि यह सीजन उनके लिए जबरदस्त होगा, "पिछले साल हम नीचे की छह टीमों के खिलाफ बहुत अच्छा खेले लेकिन ऊपर की छह टीमों के साथ नहीं. उससे पहले के साल उल्टा था. मैं मानता हूं कि इस बार दोनों तरफ ठीक होगा."

एजेए/ओएसजे (डीपीए)

DW.COM