1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

वर्ल्ड कप

प्रिंस चार्ल्स ही करेंगे खेलों का उद्घाटन

कॉमनवेल्थ खेल शुरू होने से पहले उद्धाटन को लेकर विवाद थमा. भारत की राष्ट्रपति प्रतिभा पाटील नहीं, बल्कि प्रिंस चार्ल्स ही खेलों का उद्घाटन करेंगे. ब्रिटिश महारानी व्यस्तता के कारण पहले ही दिल्ली आने से इनकार कर चुकी हैं.

default

प्रिंस चार्ल्स के दफ्तर से इस बात की पुष्टि हुई है कि वह ही इन खेलों के आरंभ होने की घोषणा करेंगे. आम तौर पर ब्रिटेन की महारानी कॉमनवेल्थ खेलों का उद्घाटन करती हैं. लेकिन जब अपनी व्यस्तता का हवाला देकर उन्होंने दिल्ली आने से इनकार कर दिया, तो आयोजक भारत की राष्ट्रपति प्रतिभा पाटील से उद्घाटन करवाने के बारे में सोचने लगे.
प्रिंस चार्ल्स की प्रवक्ता ने कहा, "खेलों के उद्घाटन में प्रिंस ऑफ वेल्स और भारत की राष्ट्रपति की अहम भूमिका होगी. महारानी ने प्रिंस ऑफ वेल्स से कहा है कि वह कॉमनवेल्थ खेलों के उद्घाटन में उनका प्रतिनिधित्व करें."

1998 के मलेशियाई कॉमनवेल्थ खेलों में भी महारानी नहीं गईं और उनकी जगह शाही परिवार के एक सदस्य को भेजा गया. ऐसे में खेलों का उद्घाटन मलेशिया के राजा के हाथों हुआ. भारत भी चाहता है कि प्रोटोकॉल के कारण राष्ट्रपति प्रतिभा पाटील को यह सम्मान मिलना चाहिए. ऐसी संभावना है कि प्रिंस चार्ल्स बेटन संदेश पढ़ेंगे जिसके बाद राष्ट्रपति का भाषण होगा. इसी भाषण में वो खेलों की शुरुआत का एलान करेंगी. इस तरह दोनों मिल कर खेलों का उद्घाटन करेंगे.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः उज्ज्वल भट्टाचार्य