1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

प्रधानमंत्री नाराज, खेलों की जांच शुरू

कॉमनवेल्थ खेलों के समापन के बाद अब फिर से उन घोटालों का जिक्र चल निकला है जिनकी बात खेल शुरू होने से पहले उठती रही. प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने इस मामले की जांच के लिए एक उच्च स्तरीय समिति का गठन कर दिया है.

default

घोटालों की जांच की बार बार उठती मांग को देखते हुए प्रधानमंत्री ने यह समिति गठित की है. इसका अध्यक्ष पूर्व महालेखापरीक्षक वीके शुंगलू को बनाया गया है. प्रधानमंत्री कार्यालय के प्रवक्ता ने बताया कि समिति को तीन महीने के भीतर अपनी रिपोर्ट प्रधानमंत्री को सौंपनी होगी.

Indien Commonwealth Games Eröffnung in Neu Delhi Stadion

जांच का एलान ऐसे वक्त में हुआ है जब सीएजी ने खुद इस मामले में दखल दिया. सीएजी ने कहा है कि वह कॉमनवेल्थ खेलों की विभिन्न परियोजनाओं की जांच करेगा. इसके लिए सभी स्टेडियमों का दौरा किया जाएगा और सारे रिकॉर्ड खंगाले जाएंगे.

प्रधानमंत्री खेलों की आयोजन समिति और उसके अध्यक्ष सुरेश कलमाड़ी से किस कदर नाराज हैं इसका पता उनके रवैये से चलता है. देश के लिए मेडल जीतने वालों के सम्मान में प्रधानमंत्री आवास पर एक समारोह आयोजित किया गया लेकिन इसमें सुरेश कलमाड़ी को नहीं बुलाया गया.

Indien Commonwealth Games 2010

निशाने पर कलमाड़ी

प्रधानमंत्री कार्यालय के प्रवक्ता ने कहा, “सरकार ने पूर्व सीएजी वीके शुंगलू के नेतृत्व में एक उच्च स्तरीय कमिटी गठित करने का फैसला किया है. यह समिति खेलों से जुड़े सभी पहलुओं की जांच करेगी. इसमें आयोजन से लेकर व्यवहार तक सभी मुद्दे शामिल हैं. समिति इस आयोजन से सीखे गए सबक भी तैयार करेगी.”

प्रवक्ता ने कहा कि एक दो दिन में इस समिति के बारे में पूरी जानकारी सार्वजनिक कर दी जाएगी.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः एन रंजन