1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

प्यूमा खरीदेगा डॉर्टमुंड के शेयर

बुंडेसलीगा के क्लब डॉर्टमुंड के स्पॉन्सर प्यूमा, इवोनिक और सिग्नाल इदूना क्लब में शेयर खरीद रहे हैं ताकि वह चैंपियन बायर्न म्यूनिख से मुकाबला करने के लिए धन जुटा सके.

default

प्यूमा का मुख्यालय

पिछले साल बायर्न से पिछड़ने वाले रुअर वैली के क्लब का कहना है कि वह अपना कर्ज घटाने के लिए करीब साढ़े 11 करोड़ यूरो जुटाएगा और इसके लिए 2.45 करोड़ शेयर बेचेगा. खेल के सामान बनाने वाली कंपनी प्यूमा अपना फोकस स्पोर्ट वाले फैशन से हटा कर खेल पर करना चाहती है और उसने कहा है कि वह टीम में हिस्सेदारी खरीदने के लिए तैयार है. प्यूमा ने एक बयान में कहा, "स्पोर्ट कंपनी प्यूमा बोरुसिया डॉर्टमुंड को 2012 से स्पॉन्सर करने के बाद अब क्लब में सीधे भागीदारी की इच्छुक है."

वित्तीय तंदुरुस्ती

दस साल पहले दिवालिया होने के कगार पर पहुंच गया डॉर्टमुंड अब बायर्न म्यूनिख के नक्शेकदम पर चल रहा है. बायर्न ने अपने शेयर एडिडास, आउडी और बीमा कंपनी अलायंस जैसे कारोबारी सहयोगियों को बेचे है. बोरुसिया के सीईओ हंस-योआखिम वात्स्के ने कहा, "हमें खुशी है कि बोरुसिया डॉर्टमुंड के तीन अहम स्पॉन्सर इवोनिक, प्यूमा और सिग्नाल इदूना ने क्लब में हिस्सा खरीदने का फैसला लिया है." उन्होंने कहा कि इससे बोरुसिया का सिर्फ वित्तीय फायदा ही नहीं होगा, वह देश-विदेश में गहन नेटवर्किंग भी कर पाएगा.

बोरुसिया डॉर्टमुंड ने 2012-14 के सीजन में 26 करोड़ यूरो का टर्नओवर पोस्ट किया है. इसकी घोषणा के समय शेयर बाजार में लिस्टेड क्लब के शेयर 5 यूरो के हिसाब से बिक रहे थे. नए शेयर 4.66 यूरो की दर पर बेचे जाएंगे. तीनों कंपनियों ने डॉर्टमुंड के स्टेडियम के नाम के अधिकार खरीद रखे हैं. अब वे खास संख्या में शेयर खरीदने को राजी हो गए हैं.डॉर्टमुंड ने 2010-11 में जर्मनी की प्रमुख फुटबॉल लीग बुंडेसलीगा का टाइटल जीता था. इसके बाद 2011-12 में उसने लीग के अलावा सुपर कप भी जीता, लेकिन पिछले सीजन में उसे अपने बहुत सारे खिलाड़ियों को बेचना पड़ा.

खिलाड़ियों के लाले

अब बोरुसिया डॉर्टमुंड की योजना शेयर बेचने से होने वाली आमदनी से 4 करोड़ यूरो का इस्तेमाल कर्ज घटाने के लिए करने की है. डॉर्टमुंड ने एक बयान में कहा है, "कंपनी का यह इरादा है कि संभावित आमदनी में से करीब चार करोड़ यूरो की राशि कंपनी के कर्ज को कम करने पर खर्च की जाए." 2005 में वित्तीय संकट झेलने के बाद से खेल के मैदान पर कामयाबी के चलते क्लब की आमदनी बढ़ी है. उसकी वित्तीय स्थिति सुधरी है लेकिन वह अभी भी कर्ज में डूबा हुआ है.

कर्ज में कमी से क्लब के पास खिलाड़ियों के ट्रांसफर और तनख्वाह के लिए ज्यादा राशि हो जाएगी और वह अपने कुछ चोटी के खिलाड़ियों को रोक पाने में सफल हो सकता है. फिलहाल बोरुसिया डॉर्टमुंड मार्को रॉयस जैसे बड़े नामों को अपने पास रखने की कोशिश कर रहा है, जिनके बायर्न म्यूनिख में जाने की अटकलें हैं. कैप्टेन माट्स हुमेल्स को भी चोटी की कई यूरोपीय क्लब खरीदना चाहते हैं.

एमजे/एजेए (रॉयटर्स)