1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

पोरोशेंको और पुतिन की मुलाकात

यूक्रेनी राष्ट्रपति पेट्रो पोरोशेंको ने संसद को भंग कर दिया है. वह रूस के राष्ट्रपति से मिल रहे हैं और उनका कहना है कि देश में जल्द चुनाव कराना देश में शांति लाने की योजना का हिस्सा है.

पोरोशेंको ने कहा कि उनकी शांति योजना का ध्यान रूस का समर्थन करने वाले अलगाववादियों से बातचीत पर रहेगा. मई के राष्ट्रपति चुनाव में पोरोशेंको ने वादा किया था कि वह संसद को भंग करेंगे. एक सर्वे के मुताबिक यूक्रेन के 80 फीसदी लोग भी संसदीय चुनावों को जल्द कराने के पक्ष में हैं. पोरोशेंको ने कहा, "मतदान नागरिकों का सबसे ताकतवर हथियार है जिससे वह देश की रक्षा कर सकते हैं."

पोरोशेंको और पुतिन मंगलवार को यूरेशियाई कस्टम यूनियन के एक शिखर सम्मेलन में मिल रहे हैं. इस संघ में रूस, बेलारूस और कजाकिस्तान शामिल हैं और इस साल सम्मेलन का आयोजन बेलारूस में हो रहा है. फरवरी में विक्टर यानुकोविच को अपदस्थ किए जाने के बाद दोनों नेता दूसरी बार आमने सामने मुलाकात करेंगे. यूरोपीय संघ की विदेशी मामलों की प्रभारी कैथरीन ऐशटन और यूरोपीय संघ के ऊर्जा और वाणिज्य आयुक्त भी मिन्स्क के सम्मेलन में शामिल हो रहे हैं.

Ukraine Russland Petro Poroschenko und Wladimir Putin

इस साल 6 जून को मिले पुतिन से मिले पोरोशेंको

इस बीच रूस ने फिर से एलान किया है कि वह पूर्वी यूक्रेन में राहत सामान भेजेगा. इससे पहले शुक्रवार को रूस ने राहत सामग्रियों वाले 280 ट्रक भेजे थे और इनके लिए यूक्रेन से कोई अनुमति नहीं ली थी. यूक्रेन ने इसे लेकर आपत्ति जताई थी और आरोप लगाया कि रूस इन ट्रकों की मदद से पूर्वी यूक्रेन के लुहांस्क के लिए रडार से संबंधित संवेदनशील सामान ले जा रहा है. वहीं, रूस के विदेश मंत्री सेर्गेई लावरोव ने कहा कि रूस केवल मदद के लिए इन ट्रकों को भेज रहा है और उनकी सरकार ने यूक्रेनी विदेश मंत्रालय और अंतरराष्ट्रीय रेड क्रॉस को इससे संबंधित खबर भेज दी थी.

इस बीच यूक्रेन ने 10 रूसी पैराट्रूपर्स को हिरासत में लेने की बात कही है.

Russland Russischer Konvoi Rückkehr aus der Ukraine 23.08.2014

यूक्रेन से वापस लौटते रूसी ट्रक

अमेरिका ने इस खबर पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि यूक्रेन और रूस के बीच संघर्ष और तीव्र हो सकता है. अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार सूजन राइस ने कहा, "बार बार रूस का यूक्रेनी जमीन पर हमला करना अस्वीकार्य है. यह खतरनाक और भड़काऊ कार्रवाई है." राइस ने रूस पर आरोप लगाया है कि वह हथियारों, टैंकों और सैनिकों को यूक्रेन में भेज रहा है और इससे संघर्ष और बढ़ सकता है.

संघर्ष की शुरुआत से ही यूक्रेन मॉस्को पर आरोप लगा रहा है कि वह देश के पूर्वी हिस्से में आतंकवाद फैला रहा है लेकिन रूस ने सारे इल्जाम खारिज किए हैं.

एमजी/एमजे(एएफपी, डीपीए)

संबंधित सामग्री