1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

पूरा हुआ लियोनार्डो डिकैप्रियो का 22 साल लंबा इंतजार

लियोनार्डो डिकैप्रियो को शायद खुद भी ऑस्कर मिलने का उतना इंतजार नहीं था, जितना उनके चाहने वालों को. 28 फरवरी 2016 आखिरकार वह पल ले आया जिसका पिछले 22 साल से इंतजार था.

भारत में टाइटैनिक के लिए मशहूर चॉकलेट बॉय की छवि वाले लियो को जब ऑस्कर पुरस्कार से नवाजा गया, तो पूरा इंटरनेट उनकी जीत के जश्न में डूबा है. उनके फैन्स को स्टेज पर उनका नाम सुन कर कितनी खुशी हुई, इसका एक उदाहरण है यह वीडियो.

पहली बार लियो को ऑस्कर्स के लिए 1994 में फिल्म "व्हॉट्स ईटिंग गिल्बर्ट ग्रेप" के लिए नामांकित किया गया था. यह नामांकन "सपोर्टिंग एक्टर" की श्रेणी में था. इसके बाद "लीड एक्टर" के लिए उन्हें तीन बार नामांकित किया गया. पहली बार "द एविएटर" के लिए, फिर "ब्लड डायमंड" और उसके बाद "द वुल्फ ऑफ वॉलस्ट्रीट" के लिए. लेकिन ऑस्कर की सुनहरी ट्रॉफी हर बार उनके हाथ से छूटती रही. इंटरनेट में लियोनार्डो को ले कर अनगिनत चुटकुले बनते रहे हैं. यहां तक कि जब हाल में मिस यूनिवर्स की गलत घोषणा हुई, तब लोगों ने कहा कि होस्ट स्टीव हार्वे को ही ऑस्कर्स की घोषणा भी करनी चाहिए, शायद इसी बहाने लियोनार्डो भी जीत जाएं.

लेकिन आखिरकार जब लियो को "द रेवेनेंट" के लिए पुरस्कार मिला, तो उन्होंने पिछले सालों का गिला शिकवा नहीं किया, बल्कि लोगों का ध्यान जलवायु परिवर्तन की ओर खींचा. लियो ने कहा कि फिल्म की शूटिंग के लिए ऐसी जगह की जरूरत थी, जहां बर्फ हो और बर्फ की तलाश में टीम को दक्षिणी ध्रुव तक जाना पड़ा क्योंकि बाकी सब जगह बर्फ पिघल चुकी है. अपनी स्पीच में उन्होंने कहा, "जलवायु परिवर्तन एक सच्चाई है, यह अभी इसी वक्त हो रहा है."

इस सफलता के लिए संयुक्त राष्ट्र ने भी लियोनार्डो को बधाई दी है. ऐसा कम ही देखने को मिलता है कि किसी फिल्म के लिए पुरस्कार लेते हुए कलाकार अपने परिवारजनों और दोस्तों के नाम ना ले कर, पर्यावरण के लिए कुछ करने की गुजारिश कर रहा हो. लियोनार्डो डिकैप्रियो ने कहा, "आज रात जो हुआ, मैं उसके लिए शुक्रगुजार हूं लेकिन मैं यह बताना चाहता हूं कि वक्त हमारे हाथों से निकलता जा रहा है."

लियोनार्डो डिकैप्रियो को हॉलीवुड से बधाई संदेश तो आ ही रहे हैं, बॉलीवुड भी पीछे नहीं है. इमरान हाशमी ने ट्वीट किया, "लियोनार्डो डिकैप्रियो को ऑस्कर्स के लिए बधाई, रेवेनेंट में बेहतरीन अदाकारी के लिए वे इस पुरस्कार के हकदार हैं."

फिल्म "द रेवेनेंट" मेक्सिको के अलेखांद्रो गोंजालेस इन्यारितु द्वारा निर्देशित फिल्म है. उन्हें बेहतरीन निर्देशन के लिए भी ऑस्कर पुरस्कार से सम्मानित किया गया. पिछले साल उन्हें अपनी फिल्म "बर्डमैन" के निर्देशन के लिए चुना गया था. लियोनार्डो का कहना है कि उन्हें अलेखांद्रो से फिल्म कला के बारे में बहुत कुछ सीखने को मिला है.

कम शब्दों में अपनी बात कहने वाले लियो ने ट्विटर पर भी पुरस्कार के लिए अपनी फिल्म की टीम और जूरी का शुक्रिया अदा किया है.

DW.COM

संबंधित सामग्री