1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

पुलिस छापों में धरे गए ब्रसेल्स हमलावर

22 मार्च के ब्रसेल्स हमले से जुड़े छह लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. संघीय अभियोजन पक्ष ने बताया है कि गुरुवार को पुलिस ने कई जगहों पर छापे मारे. अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी भी ब्रसेल्स पहुंचें.

बेल्जियम की राजधानी और यूरोपीय संघ के मुख्यालय ब्रसेल्स में हुए जिहादी हमले में 31 लोगों की जान गई है. इस आतंकी घटना को अंजाम देने के आरोप में अब तक छह लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. ईयू के अलावा नाटो का मुख्यालय भी ब्रसेल्स में ही है. आतंकी समूह तथाकथित इस्लामिक स्टेट ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है.

अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी शुक्रवार को इस मुश्किल घड़ी में अपनी एकजुटता दिखाने के लिए ब्रसेल्स पहुंचे हैं. पीड़ितों को श्रद्धांजलि देने के अलावा केरी ईयू अधिकारियों के साथ बैठकों में हिस्सा लेंगे.

इन हमलों ने यूरोप में मंडराते जिहादी हमलों के खतरों की ओर ध्यान खींचा है. केवल चार महीने पहले ही फ्रांस की राजधानी पेरिस में हुए सिलसिलेवार बम हमलों में 130 लोगों की मौत हुई थी.

फ्रांस के गृह मंत्री बेर्नार्ड काजेनॉएव ने गुरुवार को बताया कि पुलिस ने एक ऐसे संदिग्ध व्यक्ति को पेरिस से गिरफ्तार किया है, जो फ्रांस में हमला करने की काफी आगे तक तैयारी कर चुका था. हालांकि इस व्यक्ति का पेरिस और ब्रसेल्स में हुए हमलों से कोई संबंध नहीं स्थापित हुआ है, लेकिन काजेनॉएव का कहना है कि यह आदमी "एक आतंकी नेटवर्क से जुड़ा है जो देश पर हमला करना चाहता हैं".

पुलिस ने मुख्य आरोपी सालाह अब्देससलाम को पिछले शुक्रवार ब्रसेल्स से गिरफ्तार किया था, जिसके कुछ ही दिनों के अंदर ब्रसेल्स में हमला हुआ. पेरिस हमलों के बाद से पिछले चार महीने से पुलिस अब्देससलाम को ढूंढ रही थी. पेरिस हमलावरों में केवल वही जिंदा बच कर भागने में कामयाब रहा था. अब्देससलाम के वकील स्वेन मेरी ने कहा है कि उसके मुवक्किल को ब्रसेल्स हमलों के बारे में पहले से "नहीं पता था". ब्रसेल्स में फंसे भारतीय लोगों को विशेष विमान से भारत वापस लाया जा चुका है.

इस बीच बेल्जियम में इतने लंबे समय तक रहने वाले अब्देससलाम को पकड़ पाने में नाकाम रही पुलिस की हर ओर हो रही आलोचना के चलते बेल्जियम के गृह मंत्री और कानून मंत्री ने अपना इस्तीफा पेश कर दिया. हालांकि प्रधानमंत्री चार्ल्स मिशेल ने उनके इस्तीफे को स्वीकार नहीं किया.

अभियोजन पक्ष ने इस बात की पुष्टि की है कि मालबीक मेट्रो स्टेशन पर बम विस्फोट करने वाले दोनों भाई इब्राहीम और खालिद अल बकरावी ने खुद को उड़ा लिया था. बेल्जियन प्रशासन अब कैप पहने और बड़ा बैग लिए दिखे एक संदिग्ध व्यक्ति की तलाश में है. सीसीटीवी फुटेज में कैद हुए इस व्यक्ति की अब तक पहचान नहीं हो सकी है.

अमेरिकी टीवी नेटवर्क एनबीसी ने बताया है कि अल बकरावी भाईयों के बारे में अमेरिका को जानकारी थी और उन्हें अमेरिकी आतंकवादी डाटाबेस में "संभावित आतंकी खतरे" की सूची में रखा गया था. अमेरिका के राष्ट्रीय आतंकरोधी केंद्र ने इस जानकारी की अभी तक पुष्टि नहीं की है.

बेल्जियम में जारी आतंकी चेतावनी को थोड़ा कम कर दिया है, लेकिन हर जगह पुलिस और सेना की उपस्थिति देखी जा सकती है. ब्रसेल्स हमले में कम से कम 40 अलग अलग राष्ट्रीयता वाले लोग मारे या घायल हुए हैं.

आरपी/एमजे (एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री