1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

पी ही लिया चंद्रबाबू नायडू ने नारियल पानी

आंध्र प्रदेश में विपक्ष के नेता चंद्रबाबू नायडू ने अपना आमरण अनशन खत्म कर दिया है. वह पिछले आठ दिन से राज्य में सरकार पर किसानों की अनदेखी का आरोप लगाकर भूख हड़ताल पर थे.

default

शुक्रवार को नौ राजनीतिक दलों के नेता हैदराबाद में नायडू से मिले और उनसे अनशन खत्म करने का अनुरोध किया. उन्होंने नायडू को नारियल पानी पेश किया. पार्टियों ने नायडू की तेलुगुदेशम पार्टी के साथ मिलकर यूपीए सरकार के खिलाफ संघर्ष करने का संकल्प भी लिया.

गुरुवार को डॉक्टरों ने कहा था कि नायडू की हालत लगातार बिगड़ रही है और यह गंभीर हो सकती है. इसके बाद पुलिस ने उन्हें जबरन आईसीयू में भर्ती करा दिया.

टीडीपी चाहती है कि कांग्रेस सरकार किसानों को इस साल भारी बारिश की वजह से बर्बाद हुई फसल के लिए दिए जाने वाले मुआवाजे की रकम बढ़ाए. इस साल बारिश की वजह से 50 लाख किसान प्रभावित हुए हैं. टीडीपी के येरान नायडू पूछते हैं, "127 किसान खुदकुशी कर चुके हैं. मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि उन्होंने किसानों को सबसे अच्छा मुआवजा दिया है. फिर वे खुदकुशी क्यों कर रहे हैं?" सरकार खुदकुशी करने वाले किसानों की संख्या 39 बताती है.

किसानों के नाम पर टीडीपी ही नहीं बल्कि अन्य पार्टियां भी राजनीति कर रही हैं. हाल ही में कांग्रेस से अलग होकर अपनी पार्टी बनाने की योजना पर काम कर रहे जगन मोहन रेड्डी ने भी आंदोलन छेड़ रखा है. जगन मोहन रेड्डी ने किसानों के समर्थन में 48 घंटे की भूख हड़ताल की. उन्होंने गुरुवार को अपना अनशन खत्म किया.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः आभा एम

DW.COM

WWW-Links