1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

पीसीबी से एजाज बट नहीं हटे तो सांसद देंगे इस्तीफा

पाकिस्तान के सांसदों ने चेतावनी दी है कि अगर क्रिकेट बोर्ड में चेयरमैन एजाज बट बने रहे तो वो नेशनल असेंबली से इस्तीफा दे देंगे. खेलों की संसदीय समिति के सदस्यों ने एजाज को हटाने के लिए 24 घंटे का वक्त दिया है.

default

मैच फिक्सिंग में आरोपों में घिरने के बाद से ही बोर्ड अध्यक्ष एजाज बट की कार्यशैली और नीतियों पर सवाल उठाए जा रहे हैं. इस बीच आईसीसी की बैठक में शामिल होने के लिए दुबई रवाना होकर बट ने संसदीय समिति के सदस्यों का गुस्सा भड़का दिया है. बट ने दुबई जाने के लिए संसदीय समिति के सम्मन की भी अनदेखी कर दी. संसदीय समिति ने इंग्लैंड दौरे पर सामने आए स्पॉट फिक्सिंग विवाद की जानकारी लेने के लिए बट को सम्मन भेजा था.

Pakistan Cricket Manipulation

फिक्सिंग में फंसे पाकिस्तानी क्रिकेटर

संसदीय समिति के प्रमुख इकबाल मोहम्मद अली ने कहा है, "बट को कल तक इस्तीफा दे देना चाहिए या फिर सरकार को उन्हें पद से हटाना होगा अगर ऐसा नहीं हुआ तो समिति के सदस्यों के पास अपना इस्तीफा स्पीकर को सौंपने के अलावा और कोई रास्ता नहीं बचेगा." मोहम्मद अली ने ये भी कहा कि बट ने पाकिस्तान क्रिकेट का बहुत नुकसान किया है. क्रिकेट से जुड़े अब और विवादों को सहन नहीं किया जा सकता. मोहम्मद अली ने कहा, " देखिए कल क्या होता है लेकिन समिति के सदस्यों ने आपस में चर्चा कर इस्तीफा देने का मन बना लिया है."

खेलों की राष्ट्रीय संसदीय समिति एनएसएसी में कुल 18 सदस्य हैं. समिति और बोर्ड के बीच तनाव को कम करने के इरादे से पीसीबी के कानूनी सलाहकार तालिब रिजवी ने समिति को भरोसा दिलाया है कि बोर्ड सुनवाई के दौरान उन्हें जानकारी देने की तैयारी कर रहा है. रिजवी के मुताबिक, "एनएससीए ने जिन लोगों को तलब किया है उनमें से बट को छोड़ बाकी सभी लोग तय समय पर हाजिर होंगे."

पीसीबी अध्यक्ष पर पूर्व खिलाड़ियों और दूसरे अधिकारियों ने दूसरे बोर्ड के साथ रिश्ते बनाने में नाकाम रहने के आरोप लगाए हैं. हाल ही में बट उस समय भी सुर्खियों में आए जब उन्होंने इंग्लैंड के खिलाड़ियों पर विवादित वनडे सीरीज के दौरान जानबूझकर मैच हारने के आरोप लगाए. हालांकि बाद में बट ने अपने आरोप वापस ले लिए और इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड के साथ विवादों का निपटारा करने की कोशिश की. इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने तो उन्हें माफी मांगने या फिर कानूनी कार्रवाई के लिए तैयार रहने का नोटिस भी भेज दिया था.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः महेश झा

DW.COM

WWW-Links