1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

पीसीबी ने अफरीदी से मांगी सफाई

पाकिस्तान क्रिकेट की वनडे टीम के कप्तान शाहिद अफरीदी से पीसीबी ने टीवी चैनल पर दिए एक बयान पर सफाई मांगी है. अफरीदी ने इस बयान में टीम में खिलाड़ियों को चुनने की प्रक्रिया पर सवाल उठाए थे.

default

पीसीबी के एक अधिकारी ने अफरीदी को इस बारे में लिखे गए पत्र की पुष्टि करते हुए कहा कि उनसे सफाई जरूर मांगी गई है लेकिन ये नोटिस नहीं है. पीसीबी के मीडिया मैनेजर नदीम सरवर ने बताया, "मैं इसे नोटिस नहीं कहूंगा. मेरे ख्याल में ये एक मशविरे जैसा है जिसमें अफरीदी को राष्ट्रीय टीम का कप्तान होने के नाते मीडिया में बयान देते समय जिम्मेदारी भरा रवैया अपनाने की बात कही गई है."

Shahid Afridi

उधर अफरीदी ने कहा है कि वो अगले 24 घंटे के भीतर इस पत्र का जवाब देंगे. अफरीदी ने कहा, "मैंने किसी के खिलाफ कोई गलत बात नहीं कही. मेरे ख्याल में कप्तान होने के नाते लोग मुझसे अलग अलग मुद्दों पर जानकारी हासिल करना चाहते हैं और कई बातें लोगों को मुझे समझानी पड़ती हैं."

शाहिद अफरीदी ने एक टीवी चैनल से बातचीत में कहा था कि यूएई में होने वाले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वन डे और टी20 मैचों की सीरीज के लिए चयनकर्ताओं ने उनको वो टीम नहीं दी जो उन्होंने मांगा था. अफरीदी ने कहा, "हां ये सच है कि दो तीन खिलाड़ी ऐसे हैं जिन्हें मैं टीम में रखना चाहता था लेकिन मुझे इसकी इजाजत नहीं मिली." अफरीदी ने उन खिलाड़ियों का नाम बताने से इंकार कर दिया जिन्हें वो टीम में रखना चाहते थे.

अफरीदी ने इस बात के भी संकेत दिए कि वो जल्दी ही पीसीबी अध्यक्ष से मिलकर इस बारे में बात करेंगे. कप्तान ने ये जरूर माना है कि मोटे तौर पर चयनकर्ता टीम के कप्तान से खिलाड़ियों के चयन के बारे में सलाह जरूर लेते हैं.

अफरीदी ने भी इस बात का समर्थन किया है कि अब समय आ गया है कि अगले साल होने वाले वर्ल्ड कप के लिए टीम तैयार की जाए. अफरीदी ने कहा, "मेरे ख्याल से अब ज्यादा वक्त नहीं बचा है और अब हमें ये तय कर लेना चाहिए कि वर्ल्ड कप के लिए हमें किन खिलाड़ियों की जरूरत होगी." अफरीदी के मुताबिक खिलाड़ियों को चुनने से पहले टीम चुनने वालों को नेशनल टी 20 मैचों के खत्म होने का इंतजार करना चाहिए था. ये मैच 16 अक्टूबर को खत्म हो रहे हैं. अफरीदी के मुताबिक का कहना है कि वो कुछ नए खिलाड़ियों का प्रदर्शन देखना चाहते थे.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः महेश झा

DW.COM

WWW-Links