1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

पीसीबी के बस की बात नहीं: मनी

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के पूर्व अध्यक्ष एहसान मनी का मानना है कि एजाज बट के नेतृत्व में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड अपने देश में क्रिकेट के हालात को नहीं सुधार सकता. उन्होंने कहा कि बोर्ड पूरी तरह इसके लायक नहीं है.

default

पीसीबी के मुखिया पर निशाना

पाकिस्तान के उर्दू अखबार जंग से बातचीत में मनी ने कहा कि पीसीबी में बहुत ज्यादा भ्रम की स्थित है और इस वजह से जो फैसले हो रहे हैं, उनसे देश की छवि खराब हो रही है. वह चाहते हैं कि पीसीबी अध्यक्ष एजाज बट को ज्यादा जवाबदेह होना चाहिए. उन्होंने कहा, "जवाबदेही के बिना तो सुधार बहुत मुश्किल है."

मनी ने कहा, "साल भर के भीतर किसी अंतरराष्ट्रीय टीम के पाकिस्तान में खेलने की संभावना है, लेकिन एजाज बट के नेतृत्व में फिलाहल काम कर रहे बोर्ड के लिए देश में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी कराना नामुमकिन है."

मनी का कहना है कि वह पाकिस्तान की मदद करने को तैयार हैं लेकिन इसके लिए उन्हें क्रिकेट के मामलों में पूरी आजादी चाहिए. मनी इस बात से भी नाखुश हैं कि श्रीलंकाई टीम पर हमले की रिपोर्ट अब तक बोर्ड ने नहीं सौंपी है. मनी ने कहा, "बोर्ड ने श्रीलंका की टीम को राष्ट्रपति स्तर की सुरक्षा का वादा किया था लेकिन यह अब तक तय नहीं हो पाया है कि हमला किसने किया." उन्होने कहा कि जब तक इस हमले की रिपोर्ट आईसीसी को नहीं सौंपी जाती, तब तक देश में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट नहीं लौट सकता.

सांसद इकबाल मोहम्मद अली भी पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की हालत से परेशान हैं. उन्होंने बोर्ड के संरक्षक और देश के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी को एक पत्र लिखा है, जिसमें एजाज बट को अध्यक्ष पद से हटाने की मांग की गई है.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ए कुमार