1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

पिस्टोरियस के जांचकर्ता पर हत्या का आरोप

ऑस्कर पिस्टोरियस के खिलाफ हत्या के आरोप की जांच कर रहे अधिकारी पर ही हत्या के आरोप लगाए गए हैं. पिस्टोरियस के खिलाफ अदालत में अभियोजन पक्ष के तर्क इसके बाद फीके पड़ रहे हैं.

14 फरवरी को पिस्टोरियस की गर्लफ्रेंड रीवा स्टीनकैंप मरी पाई गईं. उनके सर पर क्रिकेट बैट से मारा गया और उनके शरीर में गोलियां थीं. पिस्टोरियस का कहना है कि उन्होंने रीवा को चोर समझकर गलती से उन पर हमला किया. लेकिन अभियोजन पक्ष के वकील कह रहे हैं कि पिस्टोरियस ने अपनी मित्र की हत्या जानबूझकर और उसकी योजना बनाकर की.

उधर जांच संभाल रहे मुख्य जासूस हिल्टन बोथा खुद 2009 में हत्या के आरोप में फंस गए हैं. उस वक्त एक एनकाउंटर में बोथा ने एक मिनिबस टैक्सी पर गोलियां चलाई थीं. पिस्टोरियस के वकील अब इन आरोपों का तर्क बनाकर बोथा की जांच क्षमता पर सवाल उठा रहे हैं. यहां तक कि अदालत में पूछताछ के दौरान बोथा को बचाव वकीलों की बात माननी पड़ी कि पिस्टोरियस जिस तरह से पूरी घटना का वर्णन कर रहे हैं, उसमें विरोधाभास नहीं है. बोथा ने यह भी माना कि पुलिस ने पिस्टोरियस के टॉयलेट पर लगी गोली नहीं देखी और रीवा की मौत के चार दिन बाद जब पिस्टोरियस की अपनी जांच टीम वहां पहुंची, तो उन्हें वह गोली मिली.

अगर पिस्टोरियस को जमानत नहीं दी जाती तो उन्हें कानूनी कार्रवाई के दौरान ही जेल में रहना होगा. हालांकि उसके परिवार का कहना है कि पिस्टोरियस की अंतरराष्ट्रीय छवि को देखते हुए वे देश से बाहर निकलने की कोशिश नहीं करेंगे. पिस्टोरियस परिवार जमानत को लेकर सुनवाई से संतुष्ट है, लेकिन उन्होंने कहा है कि जांच अधिकारी बोथा के बयानों में विरोधाभास है. पिस्टोरियस की जिंदगी के बारे में भी कई बातें अब बाहर निकल रही हैं. माना जाता है कि उनका निजी जीवन तनावपूर्ण था, वे सुंदर महिलाओं और तेज कारों के शौकीन थे. उनके दोस्त उन्हें खतरों का खिलाड़ी मानते थे. लेकिन अब पिस्टोरियस ने वकीलों और प्रचार कंपनियो की एक बड़ी टीम बना ली है जो उनकी सार्वजनिक छवि को बेहतर करने की कोशिश करेंगी. इस बीच उनके दो बड़े स्पॉन्सर, नाइकी और ओकली ने उन्हें अपने विज्ञापनों से हटाने का फैसला किया है.

जमानत को लेकर पिस्टोरियस की सुनवाई शुक्रवार तक स्थगित कर दी गई है.

रिपोर्टः एमजी(एपी, एएफपी)

DW.COM