1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

पिता की चिंता के बावजूद हैदर का तूफानी खेल

पाकिस्तान के जुल्कारनैन हैदर ने पिता की बीमारी की चिंता को अलग रखते हुए लिए शानदार 88 रनों की पारी खेली. हैदर जिस समय खेलने उतरे उस समय पाकिस्तान की टीम 82 के स्कोर पर 5 विकेट खो चुकी थी.

default

हैदर की शानदार बल्लेबाजी से पाकिस्तान ने पारी की हार का संकट टाल दिया. लग रहा था कि इंग्लैंड ये टेस्ट सीरीज 2-0 से जीत जाएगा. लेकिन तीसरे दिन का खेल खत्म होने के समय पाकिस्तान को 112 रन की लीड मिल गई. 24 साल के पाकिस्तानी विकेटकीपर हैदर को कामरान अकमल की जगह पर लिया गया है. हैदर के पिता हैपेटाइटिस सी से पीड़ित हैं और कोमा में हैं. लेकिन फिलहाल उनकी हालत स्थिर है.

पाकिस्तानी टीम के कप्तान सलमान बट ने कहा, "हैदर के पिता ठीक हैं. मुझे उम्मीद है और मैं दुआ करता हूं कि वो जल्दी ठीक हो जाएं और जुल्क की चिंता खत्म हो."

हैदर की मां की 10 साल पहले कैंसर से मौत हो गई थी. हैदर अपनी आधी मैच फीस लाहौर के शेखावत खानम मेमोरियल कैंसर अस्पताल को दान देते हैं. पाकिस्तान के लिए खेल पलटने वाले हैदर ने मोहम्मद आमेर के साथ 52 और सईद अजमल के साथ 115 रनों की साझीदारी की.

कप्तान बट ने कहा, "दबाव में उन्होंने अच्छा प्रदर्शन करने की बढ़िया क्षमता दिखाई. वह पिछले कुछ दिनों से बहुत भावनात्मक दबाव में हैं. जिस तरह से वह खेले हैं बहुत ही अच्छा है. उनके खेल ने हमें सिखाया कि अगर आप मैदान पर बने रहना चाहते हैं और कष्ट लेते हैं तो आपको निश्चित ही सफलता मिलेगी."

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट बोर्ड हैदर के 22 रनों पर इतने खीज गए कि उन्होंने गेंद सीधी हैदर के कंधे पर फेंकी. लेकिन हैदर मैदान पर डटे रहे और पाकिस्तान को अच्छी बढ़त दिलाई.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा एम

संपादनः ए जमाल