1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

पास की आकाशगंगा में मिला शक्तिशाली ब्लैक होल

अमेरिकी वैज्ञानिकों ने पृथ्वी के पास ही एक आकाशगंगा में बड़ा ब्लैक होल खोजा है. ब्लैक होल करोड़ों सूरजों के कुल आकार से बड़ा है. यह इतना शक्तिशाली है कि इससे प्रकाश का एक अंश भी आर पार नहीं हो सकता.

default

अमेरिकी वैज्ञानिकों के मुताबिक पृथ्वी के पास यह ब्लैक होल हाईंज 2-10 नाम की आकाशगंगा में है. पृथ्वी से इसकी दूरी 30 प्रकाश वर्ष है. दिलचस्प बात यह है कि अन्य आकाशगंगाओं से अलग हाईंज में एक विशालकाय ब्लैक होल है.

ब्लैक होल की खोज कार्ल गेबहार्ट्ड की अगुवाई में टेक्सास यूनिवर्सिटी के अंतरिक्ष वैज्ञानिकों ने की है. हवाई और टेक्सास में लगाई गईं अंतरिक्ष दूरबीनों के आंकड़ों के अध्ययन के बाद ब्लैक होल होने की पुष्टि हुई. यह पहला मौका है जब सीधे तौर तरीकों से किसी ब्लैक होल को पुख्ता ढंग से खोजा गया है.

Flash-Galerie Sterngeburt Andromeda-Galaxie

टेक्सास यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों के मुताबिक यह ब्लैक होल इतना शक्तिशाली है कि यह प्रकाश के एक अंश मात्र को भी आर पार नहीं होने देता. यही वजह है कि काफी समय तक अंतरिक्ष में मौजूद अन्य तत्वों के इसमें समाने के परिणामों से ब्लैक होल की पहचान हो सकी. रिसर्च कहती है कि शक्तिशाली ब्लैक होल अपने आसपास मौजूद चीजों को चुंबकीय रफ्तार से खींचकर हमेशा के लिए निगल लेता है.

अमेरिकन एस्ट्रोनॉमिकल सोसाइटी ने भी ब्लैक होल की खोज को सही करार दे दिया है. अमेरिकी अंतरिक्ष वैज्ञानिकों के मुताबिक नए ब्लैक होल की खोज ब्रह्मांड की उत्पत्ति के राज खोलने में मदद करेगी. वर्जीनिया यूनिवर्सिटी में शोध कर रहीं एमी राइनेस कहती हैं, ''यह खोज हमें उस प्रारंभिक पल की जानकारी दे सकती है जिसके बारे में आज तक कुछ पता नहीं चल सका है.''

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: ए कुमार

DW.COM

WWW-Links