1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

फीडबैक

पाठकों की नब्ज को बखूबी पहचानता डीडब्ल्यू

डॉयचे वेले की 60वीं वर्षगांठ पर पाठकों से आई शुभकामनाएं !

डॉयचे वेले आज अपनी 60वीं सालगिरह मना रहा है. लगभग 25 सालों से मैं भी इस सबसे बड़ी प्रसारण संस्था से जुड़ा रहा हूं. मुझे लगता है कि मैं भले ही बूढ़ा हो जाऊंगा लेकिन डॉयचे वेले अपने खबरों और आर्टिकलों के मामले में सदा जवान रहेगा. मुझे आज भी ताजा खबरों के लिए सिर्फ डॉयचे वेले की साइट पर जाना पड़ता है. साइटें तो और भी हैं जहां से खबरें देखी व पढ़ी जा सकती हैं लेकिन जो संतोष और भरोसा डॉयचे वेले की साइट पर मिलता है वो कहीं और नहीं मिलता. शायद यही वजह भी है कि स्नेह और प्यार का रिश्ता आज तक ऐसे ही कायम है और सदा रहेगा. अपने पाठकों की नब्ज को डॉयचे वेले बखूबी से पहचानता है और इसी के अनुरूप अपने को ढाल लेता है. रेडियो प्रसारण फिर इंटरनेट और फेसबुक और अब मोबाइल पर कहीं भी डॉयचे वेले ने सदा ही साथ निभाया वो भी अपनी भाषा में. खबरों की खबर लेने वाले डॉयचे वेले को साठवीं वर्षगांठ पर हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं !

रवि श्रीवास्तव, इंटरनेशनल फ्रेंडस क्लब, इलाहाबाद

-----

डॉयचे वेले की स्थापना के 60 साल पूरे होने पर समस्त डॉयचे वेले परिवार के साथ सभी श्रोताओं एवं पाठकों को हार्दिक शुभकामनाएं ! मुझे खुशी है कि मैं भी डीडब्ल्यू का एक खास हिस्सा हूं, मुझे गर्व है कि मैं एक नियमित श्रोता और एक सक्रिय पाठक हूं, डॉयचे वेले के 60 साल के इस सफर के शुभ अवसर पर मैं डीडब्ल्यू के उज्ज्वल भविष्य की कामना करता हूं.

आबिद अली मंसूरी, देशप्रेमी रेडियो लिस्नर्स क्लब, बरेली. उत्तर प्रदेश

-----

सर्वप्रथम डॉयचे वेले की 60वीं वर्षगांठ पर डॉयचे वेले के सभी कार्यकर्तायों एवं पदाधिकारियों को मेरी ओर से लाल गुलाब की खुशबू की सहित हार्दिक अभिनंदन. पिछले 60 वर्षों में डॉयचे वेले का जोरदार विकास हुआ है. रेडियो प्रसारण से विकसित होकर अब एक अंतराष्ट्रीय आधुनिक मीडिया संस्था के रूप में डॉयचे वेले 30 भाषाओं में टेलिविजन, वेबसाइट पर ऑनलाइन सामग्री, मोबाइल प्रसारण और साथ साथ फेसबुक समेत मल्टीमीडिया माध्यमों से विश्व के विभिन्न देशों को जर्मनी व उसकी संस्कृति से अवगत कराता है. मैं आशा करता हूं समय के साथ साथ अंतराष्ट्रीय प्रसारण की विशेषता व मांग के अनुसार डॉयचे वेले अपनी क्षमता, अपनी सृजन शक्ति को उन्नत करेगा. मैं इस शुभ अवसर पर डॉयचे वेले के हिंदी विभाग के सभी स्टाफ को एवं पाठकों को हृदय से शुभकामनाएं देता हूं साथ ही डॉयचे वेले की लम्बी आयु की कामना करता हूं.

रविशंकर बसु, ग्राम बमनगर,जिला हुगली,पश्चिम बंगाल

-----

आशा करता हूं जर्मनी में आप सभी ठीक से होंगे. मैं डॉयचे वेले के 60वें जन्मदिन पर आप और आपकी पूरी टीम को बधाई देना चाहता हूं.

नासिर अजीज, शेखपुरा, पाकिस्तान

-----

मैं डॉयचे वेले का बहुत पुराना श्रोता हूं.1975 से मैं आपके कार्यक्रम सुन रहा हूं. हमने एक क्लब की स्थापना भी की. 1992 में मैंने आपके द्वारा आयोजित कोलकता में एक सम्मेलन में हिस्सा भी लिया था जो कि मेरे स्थान से करीब 2000 किलोमीटर की दूरी पर है. मुझे बहुत खुशी है कि आज डॉयचे वेले अपनी 60वी वर्षगांठ मना रहा है जिसके लिए आप सब को मेरी हार्दिक शुभकामनाएं.

हमीदुल्ला बैक, अनंतपुर, आंध्र प्रदेश

-----

बहुत ही खुशी की बात है कि आज डॉयचे वेले अपनी स्थापना की 60वी वर्षगांठ मना रहा है. पिछले 60 साल में डॉयचे वेले ने जिस तरह से रेडियो, टीवी और वेबसाइट के माध्यम से पल पल बदलते विश्व घटना चक्र  की  जानकारी  त्वरित, बेबाक , निष्पक्ष, ठोस और संतुलित ढंग से अपने श्रोताओं, दर्शकों और नेटीजनों तक पहुंचायी है, वह विश्व मीडिया के इतिहास में मील का पत्थर और तारीफ के काबिल है. 60 साल की इस शानदार सफलता पर डॉयचे वेले परिवार को बहुत-बहुत बधाई एवं शुभकामनायें!

चुन्नीलाल कैवर्त, ग्रीनपीस डी-एक्स क्लब,जिला बिलासपुर, छत्तीसगढ़

-----

संकलनः विनोद चड्ढा

संपादनः आभा मोंढे