1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

'पाक परमाणु हथियारों को ताज समझता है'

अमेरिकी सेना के सर्वोच्च अधिकारी माइक मुलेन ने कहा है कि पाकिस्तान परमाणु हथियारों को खुद के लिए ताज और भारत को डराने वाला हथियार समझता है. अमेरिकी सेना प्रमुख ने पाकिस्तान में परमाणु हथियारों की सुरक्षा पर चिंता जताई.

default

भारत को डराने वाला हथियार

एडमिरल माइक मुलेन का कहना है कि परमाणु हथियार पाकिस्तान के लिए किसी 'ताज' जैसा है. पाकिस्तान इन हथियारों को भारत के खतरे से लड़ने का सबसे बढ़िया हथियार मानता है. यही वजह है कि पाकिस्तान अपने देश की सुरक्षा के लिए इन हथियारों पर सबसे ज्यादा भरोसा करता है.

एक अमेरिकी अखबार को दिए इंटरव्यू में एडमिरल मुलेन ने पाकिस्तान में परमाणु हथियारों की सुरक्षा पर चिंता भी जताई. मुलेन ने कहा ''मैं सुरक्षित यूरेनियम संवर्द्धन के लिए कोई खास तरीका नहीं सुझा सकता लेकिन इतना जरूर कहूंगा कि मैं इससे चिंतित हूं. पाकिस्तान एक बार फिर संवर्द्धन की क्षमता बढ़ा रहा है जिसके बारे में हमें उनसे बात करनी है.'

अमेरिकी सेना प्रमुख का यह भी कहना है कि लश्कर-ए-तैयबा अब भारत के बाहर भी हमला करने की फिराक में हैं. लश्कर के आतंकी पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बाहर अपने पैर पसार रहे हैं. एडमिरल मुलेन ने कहा कि ''हमने अपने देश में भी देखा डेट्रॉयट, टाइम्स स्क्वेयर जैसी घटनाओं से इस बात की पुष्टि हो जाती है कि आतंकी अपना दायरा बढ़ा रहे हैं अल कायदा अब भी इन आतंकियों का मुख्य संगठन बना हुआ है.''

मुलेन ने कहा कि अल कायदा के इरादों में कोई तब्दीली नहीं आई है और वह पश्चिमी देशों के नागरिकों के कत्ल करने पर अमादा है. अल कायदा परमाणु हथियारों को भी हासिल करने की फिराक में है. जिसे लेकर अमेरिका सबसे ज्यादा चिंतित है.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः एस गौड़

संबंधित सामग्री